14 सितम्बर को ही क्यों मनाया जाता है हिंदी दिवस

हिंदी हमारी राष्ट्र भाषा है| हिंदी दिवस १४ सितम्बर को मनाया जाता है|

14 सितम्बर को ही क्यों मनाया जाता है हिंदी दिवस

14 सितम्बर को ही क्यों मनाया जाता है हिंदी दिवस

हिंदी हमारी राष्ट्र भाषा है| हिंदी दिवस 14 सितम्बर को मनाया जाता है| 14  सितम्बर 1949 को संविधान सभा ने यह निर्णय लिया कि हिंदी केन्द्र सरकार की आधिकारिक भाषा होगी।पहला हिंदी दिवस 14 सितंबर 1953 को मनाया गया था| इस दिन को महत्‍व के साथ याद करना इसलिए जरूरी है, राष्ट्र भाषा के प्रचारऔर प्रसार के लिए ही 14 सितम्बर को हिंदी दिवस मनाया जाता है, क्‍योंकि अंग्रेजों से आज़ाद होने के बाद यह देशवासियों की स्‍वाधीनता की एक निशानी भी है| इंग्लिश, स्‍पेनिश और मंदारिन के बाद दुनिया में चौथी सबसे ज्‍यादा बोली जाने वाली भाषा हिंदी है। सिर्फ भारत ही नहीं, हिंदी बोलने और लिखने वाले लोग इस वक्त फिजी से लेकर नेपाल और दक्षिण अफ्रीका तक मिल जाएंगे। हालांकि, हिंदी भाषा बोलने वाला भारत के ही लोग है। वह भी अधिकतर आबादी उत्तर भारत में ही बसी है। आखिरी जनगणना के डाटा को आधार बनाएं तो देश में करीब 43.63 फीसदी जनता की पहली भाषा हिंदी पाई गई। यानी आज से 10 साल पहले देश के 125 करोड़ लोगों में से लगभग 53 करोड़ लोग हिंदी को ही मातृभाषा मानते थे।

 क्यों मनाया जाता है हिंदी दिवस

इस दिवस को मनाने के पीछे का एक कारण, देश में अंग्रेजी भाषा के बढ़ते चलन और हिंदी की अनदेखी को रोकने के लिए भी यह दिवस मनाया जाता है| ज्ञात हो कि महात्मा गांधी ने हिंदी को जनमानस की भाषा कहा था| महात्मा गांधी ने देश की राष्ट्रभाषा हिंदी को बनाने की बात भी कहीं थी| उनके अलावा कई साहित्यकारों ने भी हिंदी के लिए कई प्रयास किए, लेकिन कई प्रयासों के बाद भी हिंदी को राष्ट्रभाषा का दर्जा ना मिल सका|

क्या होता है हिंदी दिवस पर?

हिंदी दिवस पर हिंदी के प्रति लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए पुरस्कार समारोह का आयोजन भी किया जाता है।जिसमे की हिंदी निबंध लेखन किया जाता है और भी बहुत कुछ होता है, इसमें हिंदी से जुड़े कई पुरस्कार हैं, जिसमें राष्ट्रभाषा कीर्ति पुरस्कार और राष्ट्रभाषा गौरव पुरस्कार शामिल हैं। राष्ट्रभाषा गौरव पुरस्कार जहां लोगों को दिया जाता है, वहीं राष्ट्रभाषा कीर्ति पुरस्कार किसी विभाग या समिति आदि को दिया जाता है।

विश्व में सर्वाधिक बोली जाने वाली भाषाओं में से एक हिंदी

आज हिंदी विश्व में सर्वाधिक बोली जाने वाली भाषाओं में से एक है| विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर हिंदी का दबदबा बढ़ा है| आज हिन्दी भाषा को पूरे विश्व भर में सम्मान के नजरों से देखा जाता है| यहां तक की टेक्नोलॉजी के जमाने में आज विश्व की सबसे बड़ी कंपनियां जैसे गूगल, फेसबुक भी हिंदी को बढ़ावा दे रही हैं|