देहरादून में वाहन स्वामियों ने विधानसभा का किया घेराव, जानिए क्या है पूरा मामला

पब्लिक ट्रांसपोर्ट आम लोगो की ज़िन्दगी के वो साथी है जिनके हड़ताल पर जाने से  आम आदमी की रोजमर्रा की ज़िन्दगी भी हड़ताल पर चली जाती है

देहरादून में वाहन स्वामियों ने विधानसभा का किया घेराव, जानिए क्या है पूरा मामला
पब्लिक ट्रांसपोर्ट आम लोगो की ज़िन्दगी के वो साथी है जिनके हड़ताल पर जाने से  आम आदमी की रोजमर्रा की ज़िन्दगी भी हड़ताल पर चली जाती है, ऐसा ही आज कुछ देहरादून निवासियों के साथ भी हुआ जहा सार्वजनिक परिवहनो के हड़ताल पर जाने से आम लोगो को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा जी हा दरसल सार्वजनिक परिवहन वाहनों जैसे सिटी बसों, ऑटो रिक्शा और विक्रम सहित वाणिज्यिक वाहनों के मालिकों और ऑपरेटरों के विभिन्न संघो ने आज राज्यव्यापी 'चक्का जाम' किया.


साथ ही सभी यूनियनों ने  मिलकर विधानसभा सत्र के पहले दिन विरोध मार्च भी निकाली आपको बता दे की यह विरोध परीक्षण केंद्रों सहित अन्य मुद्दों पर किया जा रहा है देहरादून महानगर सिटी बस सेवा महासंघ ने मांग की है कि अधिकारियों द्वारा प्रत्येक जिले में फिटनेस सेंटर स्थापित करने तक पुरानी व्यवस्था जारी रखी जाए 


बता दें कि परिवहन विभाग ने देहरादून के डोईवाला और ऊधमसिंह नगर के रुद्रपुर में निजी सहभागिता से ऑटोमेटेड फिटनेस सेंटर शुरू किए हैं। वहीं, आरटीए देहरादून के दस साल से पुराने डीजल ऑटो, विक्रमों का संचालन बंद करने के फैसले का भी भारी विरोध हो रहा है। उत्तराखंड विक्रम, ऑटो रिक्शा परिवहन महासंघ, सिटी बस सेवा महासंघ सहित गढ़वाल मंडल की करीब 15 यूनियनों के साथ ही कुमाऊं मंडल की यूनियन भी इसमें शामिल रही।