उत्तराखंड: हरिद्वार में लूट के आरोपी के साथ मुठभेड़ में मारा गया हरियाणा का सिपाही

हरिद्वार में गुरुवार देर रात गोली लगने से हरियाणा पुलिस के एक जवान की मौत हो गई

उत्तराखंड: हरिद्वार में लूट के आरोपी के साथ मुठभेड़ में मारा गया हरियाणा का सिपाही

हरिद्वार में गुरुवार देर रात गोली लगने से हरियाणा पुलिस के एक जवान की मौत हो गई। पुलिस हिरासत से बचने के प्रयास में डकैती के एक आरोपी ने पुलिस कर्मियों को गोली मार दी। फरीदाबाद पुलिस की क्राइम ब्रांच इंस्पेक्टर विमल कुमार के नेतृत्व में गुरुवार को लूट के एक मामले में शामिल पांच लोगों का पीछा कर हरिद्वार पहुंची थी। पुलिस के मुताबिक पांच सदस्यीय गिरोह ने 28 सितंबर को फरीदाबाद में एक कारोबारी को लूटा था। 


पुलिस टीम ने चार आरोपियों को पकड़ने में कामयाबी हासिल कर ली थी और पांचवे आरोपी को हर की पौड़ी के पास दीन दयाल उपाध्याय पार्किंग में पकड़ने का इंतजार कर रही थी। हिरासत में लिए गए आरोपियों में से एक अंशुल कुमार ने पुलिस कांस्टेबल संदीप कुमार (30) पर गोली चलाई और पुलिस हिरासत से भागने में सफल रहा। गोली संदीप की गर्दन में लगी और जब उसे शहर के एक निजी अस्पताल ले जाया गया, तो उसे बचाया नहीं जा सका। 

हालांकि पुलिस शुक्रवार सुबह अंशुल को ढूंढने में सफल रही। उसे रोडीबेलवाला ग्राउंड से पकड़ा गया। ऑपरेशन के दौरान उनके हाथ में गोली लग गई। फिलहाल उसका इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। पुलिस ने उसके कब्जे से वह बंदूक भी बरामद की है जिससे उसने कांस्टेबल संदीप को गोली मारी थी। लूट के मामले में शामिल पांचवां व्यक्ति अभी फरार है। हरिद्वार के सर्कल अधिकारी अभय सिंह ने कहा, "घटना गुरुवार रात करीब 10.20 बजे हुई। सूचना मिलने के तुरंत बाद, हमने इलाके को घेर लिया।