यूपी बोर्ड ने लिया अहम फैसला, 2021-22 की मार्कशीट में हिंदी अंग्रेजी में लिखेगा माता पिता का नाम

सत्र 2021-22 की मार्कशीट में छात्र के नाम के साथ उनके माता-पिता का नाम हिंदी और अंग्रेजी में लिखा जाएगा।

यूपी बोर्ड ने लिया अहम फैसला, 2021-22 की मार्कशीट में हिंदी अंग्रेजी में लिखेगा माता पिता का नाम
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (यूपी बोर्ड) ने एक बड़ा फैसला लिया है। सत्र 2021-22 की मार्कशीट में छात्र के नाम के साथ उनके माता-पिता का नाम हिंदी और अंग्रेजी में लिखा जाएगा। पिछले साल की तरह इस बार भी मार्कशीट और सर्टिफिकेट एक ही रहेगा। छात्रों को डिजिटल सिग्नेचर के साथ मार्कशीट कम सर्टिफिकेट मिलेगा। यह लगातार दूसरी बार है जब मार्कशीट-कम-सर्टिफिकेट में पिता के साथ मां का नाम भी शामिल होगा। आपको बता दें कि गोरखपुर जिले में उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं में लड़कियां अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं।  

हर बार की तरह इस बार भी हाई स्कूल में लड़कों के मुकाबले 5.10 फीसदी ज्यादा लड़कियां पास हुई हैं। इंटरमीडिएट में लड़कियों का रिजल्ट लड़कों के मुकाबले 10.33 फीसदी ज्यादा रहा है। परिषद ने शनिवार को दो घंटे के अंतराल पर हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं के नतीजे घोषित कर दिए। जिला स्तरीय मेरिट लिस्ट जारी होते ही मेधावी उछल पड़े। मेरिट लिस्ट में ग्रामीण क्षेत्रों की मेरिट भी चमकी है। माध्यमिक शिक्षा मंडल के क्षेत्रीय सचिव विनोद कृष्ण एवं उप सचिव आरपी सिंह के अनुसार हाईस्कूल में जीपीएसआईसी चौरीचौरा के छात्र आकाश निषाद ने 93.83 प्रतिशत अंक प्राप्त कर जिले में टॉप किया है। 

कार्मेल गर्ल्स इंटर कॉलेज की छात्रा मान्या सिंह लड़कियों में टॉपर बनी हैं। मान्यता को 93.50 प्रतिशत अंक मिले हैं। तीसरा स्थान महात्मा गांधी इंटर कॉलेज के छात्र सूर्य चौरसिया ने हासिल किया है। सूर्या ने 92.67 फीसदी अंक हासिल किए हैं। इंटरमीडिएट के टॉप-3 में दो बेटियां शामिल हैं। कैंपियरगंज के पीपीडी आईसी मछलीगांव की छात्रा कृष्णाप्रिया मिश्रा ने जिले में टॉप किया है. कृष्णाप्रिया को 89.80 फीसदी अंक मिले हैं. संस्कृतियन इंटर कॉलेज मलाओं की छात्रा श्रेया ने 89.00 प्रतिशत अंक हासिल कर जिले में दूसरा स्थान हासिल किया है. महात्मा गांधी इंटरमीडिएट कॉलेज के छात्र राहुल सिंह 88.80 प्रतिशत अंकों के साथ तीसरे स्थान पर रहे।