यूनाइटेड सिख फेडरेशन ने कंगना के खिलाफ किया प्रदर्शन, कालिख पोत किया पुतला दहन

उत्तराखंड के सिख समाज ने देहरादून में कंगना रनौत की तस्वीर पर कालिख पोत कर पुतला दहन किया गया

यूनाइटेड सिख फेडरेशन ने कंगना के खिलाफ किया प्रदर्शन, कालिख पोत किया पुतला दहन

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत द्वारा सिखों, किसानों एवं देश की आजादी को लेकर किए गए घोर अपमानजनक बयानों से आक्रोशित उत्तराखंड के सिख समाज ने देहरादून में कंगना रनौत की तस्वीर पर कालिख पोत कर पुतला दहन किया गया तथा जिलाधिकारी देहरादून के माध्यम से महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद जी को ज्ञापन प्रेषित किया। इस दौरान यूनाइटेड सिख फेडरेशन के अध्यक्ष अमरजीत सिंह ने कहा 500 सालों से देश में सिखों का गौरवशाली इतिहास रहा है। सिखों आजादी में लाखों सिखों ने कुर्बानियां दी है

पदम श्री वापस लिया जाएँ 

आदरणीय महामहिम महोदय आज बॉलीवुड की अभिनेत्री कंगना रनौत विगत कुछ वर्षों से देश के महान नेताओं, किसानों, भारत देश की आजादी एवं सिख समाज के प्रति लगातार आपत्तिजनक टिप्पणियां व निम्नस्तर की भाषा का प्रयोग कर सभी का अपमान कर रही हैं। उत्तराखंड के समस्त सिख समाज की ओर से यूनाइटेड सिख फेडरेशन आपसे अनुरोध करता है कि ऐसी महिला अभिनेत्री के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए जाएं व इनको प्रदान किया गया पदम श्री अवार्ड व अन्य अवार्ड तुरंत वापस लिए जाएं ऐसी महिला हमारे देश व समाज के लिए खतरा है, देश में एकता व समाज में आपसी सौहार्द एवं सद्भाव बनाए रखने के लिए कंगना रनौत पर कार्रवाई अति आवश्यक है, आशा करते हैं कि आप जन भावनाओं का आदर सम्मान करते हुए इस अभिनेत्री पर उचित कार्यवाही के निर्देश जारी करेंगे।

यह लोग रहे शामिल 

पुतला दहन एवं जिलाधिकारी देहरादून को ज्ञापन प्रेषित करने के अवसर पर सर्वश्री हरमोहिंदर सिंह, जगजीत सिंह, गुरबख्श सिंह राजन, जगमिंदर सिंह छाबड़ा, राजेंद्र सिंह राजा, जयवीर सिंह बाली, साहब सिंह ढिल्लो, अमरजीत सिंह, नवतेज पाल सिंह, सुमित्तर भुल्लर, लाल चंद शर्मा, जगदीश तनेजा, राजेश चमोली, मोहन कुमार काला, प्रभजोत मोहार, गुरूसेवक मोहार, बलमीत सिंह, देवेन्द्र सिंह भसीन, हरपाल सिंह सेठी, रविंद्र सिंह, गुरजिंदर सिंह, शमशेर सिंह, बीएम सिंह, प्रभजीत सिंह दुग्गल, मनोहर सिंह, मदन मोहन कोहली, जसबीर सिंह, गोल्डी रात्रा जसविंदर सिंह, गुरप्रीत सिंह मंजीत सिंह सहित अन्य वरिष्ठ जन मौजूद रहे।