अंकिता भंडारी हत्याकांड में डीजीपी को ज्ञापन सौंपकर यूकेडी ने की न्याय की मांग

यूकेडी ने आज डीजीपी को ज्ञापन सौंपकर अंकिता भंडारी हत्याकांड में न्याय की मांग की साथी अपराधियों को सख्त से सख्त सजा देने और परिवार वालों को न्याय देने की मांग.

अंकिता भंडारी हत्याकांड में डीजीपी को ज्ञापन सौंपकर यूकेडी ने की न्याय की मांग

यूकेडी ने आज डीजीपी को ज्ञापन सौंपकर अंकिता भंडारी हत्याकांड में न्याय की मांग की साथी अपराधियों को सख्त से सख्त सजा देने और परिवार वालों को न्याय देने की मांग की और साथ ही इस हत्याकांड में कई बड़े और अहम सवाल पूछे. जैसा की आप सभी को पता है कि 18 सितंबर 2022 को पहाड़ कि बेटी अंकिता भंडारी गंगा भोगपुर के मंत्रा रिसोर्ट से गायब हो गई थी जिसकी गुमशुदगी की सूचना रिसॉर्ट के मालिक द्वारा राजस्व पुलिस में की गई थी मगर जब यह मामला प्रकाश में आया तब यह केस लक्ष्मण झूला पुलिस को सौंपा गया और कार्यवाही की गई उसके बाद 23 सितंबर 2022 को चीला बैराज में अंकिता का शव बरामद हुआ जिसके बाद ही रिसोर्ट कर्मियों से की गई पूछताछ सीसीटीवी कैमरे में मिले सबूतों  के आधार पर तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया.

 

इस दौरान काशी सिंह ऐरी के साथ किशन सिंह मेहता (केंद्रीय उपाध्यक्ष) पुष्पेंन त्रिपाठी (संरक्षक) ए पी जुयाल (कार्यकारी अध्यक्ष), बी डी रतूड़ी (संरक्षक) शांति प्रसाद भट्ट (केंद्रीय मुख्य प्रवक्ता) ललित बिष्ट (केंद्रीय उपाध्यक्ष) तेज सिंह कार्की (कोषाध्यक्ष), अनुपम खत्री (प्रवक्ता) मौजूद रहे.