दो पहिया: हेलमेट ना होने पर काटा नौ हजार का चालान, युवती कहती रही प्लीज छोड़ दो सर

गले पड़ी दो दो हेलमेट की मुसीबत ने कटवाया नौ हजार का चालान लड़के हो या लड़कियां सबके लिए कानून एक सामान

दो पहिया: हेलमेट ना होने पर काटा नौ हजार का चालान, युवती कहती रही प्लीज छोड़ दो सर


देहरादून में जहां अभी तक कोरोना के नियमों के उल्घंन पर चालान काटे जा रहे थे वहीं अब दो पहियां वाहनों के लिए भी हेलमेट की मुसीबत गले पड़ गई है। हेलमेट की अनिवार्यता दो पहियां वाहनों में केवल एक व्यक्ति को नहीं बल्कि पीछे बैठने वाले व्यक्ति के लिए अनिवार्य है। इसी के चलते प्रशासन ने सख्त रूप से कार्रवाई करना शुरू कर दिया है। वहीं शनिवार आज एक चालाक के हेलमेट ना पहने होने पर चालान काटा गया। जबकि पीछे बैठे सवारी को हेलमेट पहनने की आदत सिखाने के लिए सवारी को उतारकर विक्रम से वापस भेजा गया। आरटीओ प्रवर्तन संदीप सैनी ने बताया कि कि विभाग का उद्देश्य आमजन पर जुर्माना लगाना नहीं, बल्कि उन्हें हेलमेट की अहमियत समझाना है। 

बता दे आए दिन होने वाले सड़क हादसों पर लगाम लगाने के लिए जुलाई 2018 में हाईकोर्ट का आदेश था सड़क सुरक्षा के ही तहत चौपहिया में सीट बेल्ट लगाना भी अनिवार्य होगा लेकिन जिम्मेदार विभाग इसका अनुपालन ही नहीं करा सके।अब नए एमवी एक्ट के अंतर्गत केंद्र सरकार ने सभी राज्यों को तय नियमों का सख्ती से पालन कराने के आदेश जारी किए हैं। नए नियमों में हेलमेट न पहनने पर जुर्माना सौ रुपये से बढ़ाकर एक हजार कर दिया गया है। कोरोना संक्रमण की वजह से परिवहन विभाग पहले कार्रवाई से बच रहा था, लेकिन अब अधिकारियों ने तय नियमों का पालन कराने की ठान ली है। 


युवती कहती रही प्लीज छोड़ दो 

जाखन में चेकिंग के दौरान एआरटीओ ने एक बाइक सवार का नौ हजार का चालान किया। चालक के पास न तो डीएल था, न ही वाहन का इंश्योरेंस व प्रदूषण बीमा पत्र। वह ध्वनि प्रदूषण भी कर रहा था। चेकिंग के दौरान स्कूटी पर बिना हेलमेट पकड़ी युवतियां परिवहन टीम से इस बार छोड़ देने की अपील करती रहीं। वे कहती रहीं कि मैडम प्लीज इस बार छोड़ दो, हम आगे से ध्यान रखेंगे