कोरोना नियमों को तोड़ कर घूम रहे पर्यटकों की भीड़ को बताया डरावनी: स्वास्थ्य मंत्रालय

केंद्र सरकार ने जारी की चेतवानी कहा हम प्रतिबंधों में मिली ढील को फिर से खत्म कर सकते हैं

कोरोना नियमों को तोड़ कर घूम रहे पर्यटकों की भीड़ को बताया डरावनी: स्वास्थ्य मंत्रालय

देश में कोरोना का ग्राफ का नीचे आते ही शहर भर में भीड़ जमा होने लगी है यह भीड़ का सिलसिला केवल मैदानी क्षेत्र तक तक सिमित नहीं रहा बल्कि कोरोना की रफ़्तार कम होते ही परवर्तीय क्षेत्रों में पर्यटकों की भीड़ उमड़ गई इसी गंभीरता को लेते हुए केंद्र सरकार ने चेतवानी जारी की है। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने मंगलवार को कहा कि हिल स्टेशन जा रहे लोग कोविड उपयुक्त व्यवहार नहीं अपना रहे हैं। 

अग्रवाल ने कहा कि अगर प्रोटोकॉल में का पालन नहीं किया जाता है तो हम प्रतिबंधों में मिली ढील को फिर से खत्म कर सकते हैं। अग्रवाल ने बताया कि कोरोना की दूसरी लहर अभी भी सीमित दायरे में कई जगहों पर मौजूद है। आईसीएमआर के प्रमुख डॉ बलराम भार्गव ने पहाड़ों से आ रही तस्वीरों डराने वाली बताया। वहीं मंत्रालाएँ ने हिल स्टेशन में पहुंच रहे पर्यटकों को देखते हुए कहा की यह कोरोना नियमों का घोर उल्लंघन है इस भीड़ के चलते एक बार फिर मामले बढ़ सकते है।  देश में एक्टिव मामले 5 लाख से कम हो गए है। साथ ही कोविड मामले भी 30 फीसदी तक कम हुए हैं

सभी नागरिगों को कोविड नियमों का पालन करना चाहिए। भार्गव ने कहा कि भविष्य की चुनौती कोरोना की तीसरी लहर नहीं बल्कि हम उसे लेकर क्या रुख अख्तियार करते हैं, यह लहर के पहलू को उजागर करने के बजाय, हमें प्रसार को रोकने के लिए कोविड उपयुक्त व्यवहार/प्रतिबंधों पर ध्यान देना चाहिए। गौरतलब है कि देश में कोविड-19 के एक दिन में 34,703 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़ कर 3,06,19,932 हो गई जबकि 553 और मरीजों की मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 4,03,281 हो गई है. पिछले 111 दिनों में संक्रमण के सबसे कम नए मामले और करीब 90 दिनों में सबसे कम मौत के मामले आए हैं।