कोविड काल में देवभूमि के पर्यटक स्थलों पर मिलेंगी ये सुविधाएं 

कोरोना काल के दौरान कोविड प्रोटोकॉल में घर से ही काम करने वालों के पास छुट्टियों के लिए उत्तराखंड आने का बेहतर विकल्प है।

कोविड काल में देवभूमि के पर्यटक स्थलों पर मिलेंगी ये सुविधाएं 

कोरोना काल के दौरान कोविड प्रोटोकॉल में घर से ही काम करने वालों के पास छुट्टियों के लिए उत्तराखंड आने का बेहतर विकल्प है। लंबे समय तक घर में रहकर जिन लोगों का मन ऊब चूका है और छुट्टी लेकर कहीं जाने की स्थिति में नहीं हैं तो अब आपकी परेशानी खत्म।

आपको बता दें की उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद ने प्रदेश के तमाम पर्यटन स्थलों पर वर्केशन की उम्दा व्यवस्था विकसित की है। प्रदेश की सुरम्य वादियों का नजारा, समृद्धि संस्कृति, खान-पान का लुत्फ उठा कर वर्केशन कर सकते हैं। जिसके चलते होम स्टे का सबसे बढ़िया विकल्प है। 

पिछले साल के लॉकडाउन लागू होने से वेकेशन का विचार प्रचलन में आया है। जिसमें दूसरे राज्यों के लोग परिवार के साथ वर्केशन के लिए उत्तराखंड आए थे। उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद ने नैनीताल, मुक्तेश्वर, नौकुचियाताल, कौसानी, रानीखेत, अल्मोड़ा, देहरादून, मसूरी, धनौल्टी, कानाताल, टिहरी, ऋषिकेश, नरेंद्र नगर, टिहरी, लैंसडौन, रुद्रप्रयाग जिले के कई पर्यटक स्थलों को वर्केशन के लिए चिन्हित किया है। बता दें की जहां होमस्टे में इंटरनेट की बेहतर व्यवस्था उपलब्ध है।

इसके अलावा रुद्रप्रयाग के होमस्टे संचालक संजय भट्ट ने बताया कि पर्यटकों की सुरक्षा के तमाम इंतजाम करते हुए ही हम होम स्टे में अन्य सुविधाएं उपलब्ध करा रहे हैं। इसके साथ स्मार्ट सिटी के पोर्टल पर पंजीकरण करने के लिए भी हम पर्यटकों की मदद कर रहे हैं।