देश में आई नए संक्रमण की मुसीबत साइटोमेगालो वायरस से ग्रसित अब तक मिले पांच मरीज

देश में दी नए संक्रमण ने दस्तक जाने क्या है साइटोमेगालो वायरस लक्षण

देश में आई नए संक्रमण की मुसीबत साइटोमेगालो वायरस से ग्रसित अब तक मिले पांच मरीज

कहते है की एक मुसीबत ख़त्म नहीं होती और दूसरी गले आ पड़ती है इस कथन का अर्थ कोरोना की पहली,दूसरे वेव उसके बाद ब्लैक वाइट और येलो फंगस ने जमकर आफत मचा रखी थी लेकिन इन बिमारियों से भी बढ़ कर एक और संक्रमण का नाम और लक्षण सामने निकल कर आएं है। अब कोरोना मरीजों में साइटोमेगालो वायरस (सीएमवी) मिलने का खुलासा किया है। अब तक दिल्ली के गंगाराम अस्पताल में पांच मरीज यहां भर्ती हो चुके हैं। कोरोना का इलाज लेने के बाद इन मरीजों को पेट में दर्द और मल में खून बहने की परेशानी को लेकर भर्ती किया गया है। इनमें से एक मरीज की मौत भी हो चुकी है।

इस मामले में डॉक्टरों का कहना है की जिनका इम्यून सिस्टम कमजोर है उनके लिए यह दिक्कत की बात है। साथ ही ज्यादातर संक्रमण का शिकार वो ही मरीज हो रहे है जिनमे इम्यून सिस्टम कमजोर है। अस्पताल के वरिष्ठ डॉ. अनिल अरोड़ा ने बताया कि दूसरी लहर के दौरान संक्रमितों में सीएमवी के मामले अचानक से सामने आने लगे हैं। यह स्थिति पिछले 45 दिन में ही सामने आई है। उपचार के 20 से 30 दिन बाद मरीज पेट में दर्द और मल में खून बहने की परेशानियों के साथ पहुंचे हैं।

गंगाराम अस्पताल में साइटोमेगालो वायरस से पीड़ित भर्ती इन पांचों मरीजों की आयु 30 से 70 वर्ष के बीच है। इनमें से चार मरीजों को मल में खून आने की परेशानी है और एक मरीज को आंतों में रुकावट की समस्या है। डॉक्टरों ने यहां तक बताया है कि दो मरीजों की हालत काफी नाजुक है क्योंकि अत्यधिक खून बह रहा है। एक मरीज को दाहिने तरफ कोलन की इमरजेंसी सर्जरी की तुरंत आवश्यकता थी। जबकि दूसरे मरीज की मौत हो गई। हालांकि राहत की बात यह भी है कि चार में से तीन मरीजों को एंटीवायरल थेरेपी के जरिए उपचार सफल रहा है।