देर शाम गढ़वाल यूनिवर्सिटी के वीसी व अन्य अधिकारियों के 14 ठिकानों पर सीबीआई ने मारा छापा

भारी गड़बड़ी के चलते आरोपों में फसें हेमवती बहुगुणा गढ़वाल यूनिवर्सिटी के कुलपति घर में मारा छापा 2014 से 2016 से चल रहा घोटाले का मामला

देर शाम गढ़वाल यूनिवर्सिटी के वीसी व अन्य अधिकारियों के 14 ठिकानों पर सीबीआई ने मारा छापा

भारी गड़बड़ी के चलते आरोपों में फसें हेमवती बहुगुणा गढ़वाल यूनिवर्सिटी के कुलपति जेएल कौल, उनके ओएसडी रहे डीएस नेगी और अन्य अधिकारियों के 14 ठिकानों पर सीबीआई ने शुक्रवार को छापेमारी की. इस दौरान अधिकारीयों के घर पर सीबीआई की टीम पहुंची बताया जा रहा है की देर शाम तक अधिकारीयों के घर में दस्तावेजों की जांच चलती रही.

जारी किए गए बयान में सीबीआई ने कहा, 'इस छापेमारी और छानबीन के दौरान आरोपियों के तीन बैंक लॉकरों की पड़ताल की गई, जिसमें केस से जुड़े कुछ दस्तावेज़ हाथ लगे. ये दस्तावेज उन आरोपी अफसरों को लेकर अहम हैं, जिन पर प्राइवेट कॉलेजों को नियम विरुद्ध एफिलिएशन देने के आरोप हैं.' सीबीआई ने जांच आगे भी जारी रहने की बात कही. बता दें कि इस केस में इससे पहले सीबीआई ने पूर्व वीसी, उनके ओएसडी, अन्य सरकारी व प्राइवेट ​अफसरों और छह प्राइवेट संस्थानों के खिलाफ केस दर्ज किए थे.

बता दे यह मामला 2014 से 2016 से चल रहा है इस वर्ष के बीच वाइस चांसलर रहे कौल पर भारी गड़बड़ियों के आरोप हैं. आरोप ये भी हैं कि उन्होंने नियमों कानूनों को ताक पर रखकर कई कॉलेजों को यूनिवर्सिटी की संबद्धता दी और इस पूरी प्रक्रिया में भारी गड़बड़ियां हुईं. वही पीटीआई रिपोर्ट के मुताबिक शुक्रवार को एक प्रेस  रिलीज़ की थी जिसमे यह जानकारी साझा की थी की बीते शुक्रवार को  पौड़ी गढ़वाल के श्रीनगर इलाके समेत देहरादून और नोएडा के 14 ठिकानों पर छापे मारे गए.