बारिश से नालों का हाल बेहाल नगर निगम का दावा जून के आखिरी तक 50 मुख्य नालें हो जाएंगे साफ़

देहरादून शहर में जलभराव की समस्या से लोगों को पड़ रहा है जूझना

बारिश से नालों का हाल बेहाल नगर निगम का दावा जून के आखिरी तक 50 मुख्य नालें हो जाएंगे साफ़

देहरादून में मानसून प्रभावित होने से देहरादून शहर में जलभराव की समस्या से लोगों को जूझना पड़ता है। हालांकि नगर निगम ने दावा किया है कि बरसात को लेकर तैयारियां पूरी हैं। राजधानी में कई इलाकें ऐसे हैं जिनमें जलभराव की समस्या रहती है। निगम प्रशासन का कहना है कि, मई के पहले हफ्ते से नालों की साफ-सफाई का काम जारी है और जून के आख़िरी तक शहर के 50 मुख्य नालों की साफ-सफाई का काम पूरा कर दिया जाएगा बता दे की शहर में चल रहे स्मार्ट सिटी के निर्माण के चलते जनता को और भी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। देहरादून शहर में यमुना कॉलोनी, खुड़बुड़ा इलाका, गोविन्द गढ़ सहित कई जगहों पर जलभराव की बड़ी समस्या रहती है और मानसून सीजन में बारिश से लोगों के घरों में पानी घुस जाता है.


चार दिन तक बारिश की सम्भावना 

देहरादून में लगातार मौसम बना हुआ वही मौसम विभाग ने फिर से चार दिन तक बारिश होने की सम्भावना जताई है। उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, चमोली, बागेश्वर और पिथौरागढ़ में  तेज गर्जना के साथ बारिश की संभावना है। वहीं, राजधानी देहरादून में आंशिक बादल छाए रह सकते हैं।दूसरी तरफ गंगोत्री हाईवे पर सोमवार सुबह पहाड़ी दरकने से हाईवे पर मलबा आ गया। मलबा आने से भटवाड़ी के पास सुनगर में रास्ता बंद हो गया है फिलहाल बीआरओ की टीम हाईवे खोलने में जुटी है।