घर आया शहीद चंद्रशेखर हर्बोला का पार्थिव शरीर मुख्यमंत्री सहित हज़ारो लोगो ने दी श्रद्धांजिल

शहीद लांसनायक चंद्रशेखर का पार्थिव शरीर 12.15 बजे हल्द्वानी पहुंचा। शहीद को श्रद्धांजिल देने के लिए यहां लोगों को सैलाब उमड़ पड़ा।

घर आया शहीद चंद्रशेखर हर्बोला का पार्थिव शरीर मुख्यमंत्री सहित हज़ारो लोगो ने दी श्रद्धांजिल

शहीद लांसनायक चंद्रशेखर का पार्थिव शरीर 12.15 बजे हल्द्वानी पहुंचा। शहीद को श्रद्धांजिल देने के लिए यहां लोगों को सैलाब उमड़ पड़ा। इस दौरान उनके परिजनों को शहीद का चेहरा नहीं दिखाई गया। अंतिम दर्शन के लिए परिजनों को केवल दस मिनट का समय ही मिला। इसके बाद आर्मी बेंड की धुन के साथ शहीद लांस नायक चंद्रशेखर का पार्थिव शरीर चित्रशाला घाट पहुंचा। जहां बेटियों ने अपने पिता को मुखाग्नि दी। 

 

साथ ही  मुख्यमंत्री पुष्कर धामी के साथ मंत्री रेखा आर्य नें हल्द्वानी पहुंचकर ऑपेरशन मेघदूत में साल 1984 में शहीद हुए लांसनायक श्री चंद्रशेखर हर्बोला के आवास पहुंचकर भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की, साथ ही शोकाकुल परिवार को सांत्वना दी!

 

आपको बता दे  कि मूलरूप से द्वाराहाट (अल्मोड़ा) के हाथीगुर बिंता निवासी चंद्रशेखर हर्बोला 19-कुमाऊं रेजीमेंट में लांसनायक थे, मई 1984 में सियाचिन में पेट्रोलिंग के दौरान 20 सैनिकों की टुकड़ी ग्लेशियर की चपेट में आ गई थी,जिसमें वह शहीद हो गए थे.