"शबाना आज़मी, जावेद अख्तर, नसीरुद्दीन शाह स्लीपर सेल का है हिस्सा"-मंत्री नरोत्तम मिश्रा

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बीते शुक्रवार को शबाना आज़मी, जावेद अख्तर और नसीरुद्दीन शाह को टुकड़े-टुकड़े गिरोह के स्लीपर सेल का सदस्य बताया है.

"शबाना आज़मी, जावेद अख्तर, नसीरुद्दीन शाह स्लीपर सेल का है हिस्सा"-मंत्री नरोत्तम मिश्रा

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बीते शुक्रवार को शबाना आज़मी, जावेद अख्तर और नसीरुद्दीन शाह को टुकड़े-टुकड़े गिरोह के स्लीपर सेल का सदस्य बताया है. जिसके  बाद विवाद खड़ा हो गया। मध्य प्रदेश के गृह मंत्री का यह बयान अभिनेत्री शबाना आज़मी द्वारा एक इंटरव्यू  के दौरान बिलकिस बानो बलात्कार मामले के 11 दोषियों की रिहाई के बारे में बात करने के बाद आया है।

 

जिसपर नरोत्तम मिश्रा ने कहा “ शबाना आज़मी, जावेद अख्तर और नसरुद्दीन शाह टुकड़े-टुकड़े गैंग के स्लीपर सेल हैं। उन्होंने राजस्थान में कन्हैया लाल के सिर काटने पर कुछ नहीं कहा। झारखंड में, हमारी बेटी को आग लगा दी गई लेकिन क्या उन्होंने कुछ कहा? केवल जब भाजपा शासित राज्यों में कुछ होता है, तो वे बयान जारी करते हैं,"।नरोत्तम मिश्रा ने आगे कहा "भाजपा शासित राज्यों में जब कुछ होता है तो नसरुद्दीन शाह इस देश में रहने से डरते हैं। फिर यह पुरस्कार-वापसी कर देते है यह एक गिरोह है जो सक्रिय हो जाता है । वे धर्मनिरपेक्ष होने का दावा कैसे कर सकते हैं। अब सब लोग इन लोगो की सच्चाई जानते  है, ”।

 



आपको बता दे की एक इंटरव्यू  में, 15 अगस्त को सामूहिक बलात्कार के दोषियों की रिहाई के बारे में बात करते हुए, अभिनेत्री  शबाना आज़मी ने  कहा कि उनके पास कहने के लिए कोई शब्द नहीं है।“क्या हमें छतों से चिल्लाना नहीं चाहिए ताकि बिलकिस बानो  के साथ न्याय हो सके? और जो महिलाएं इस देश में असुरक्षित महसूस कर रही हैं, जिन महिलाओं को हर रोज बलात्कार की धमकी का सामना करना पड़ता है- क्या उन्हें सुरक्षा का कुछ एहसास नहीं होना चाहिए? मैं अपने बच्चों, अपने पोते-पोतियों को क्या जवाब दूं? मैं बिलकिस से क्या कह सकती हूं? मुझे शर्म आती है”.आपको बता दे की  15 अगस्त को दोषियों की रिहाई से देश भर में आक्रोश फैल गया और यह मुद्दा सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया जिसने गुजरात सरकार से जवाब मांगा।