टेलिकॉम में लूट की छूट पर संजय कनौजिया ने उठाये सवाल, फ्री वाई फाई डेमों का एलान

कांग्रेस नेता संजय कनौजिया मीडिया से मुखातिब हुए इस दौरान उन्होंने एक ज्वलनशील मुद्दा उठाते हुए टेलिकॉम नीतियों को लेकर भाजपा सरकार पर सवाल उठाया है

टेलिकॉम में लूट की छूट पर संजय कनौजिया ने उठाये सवाल, फ्री वाई फाई डेमों का एलान

गुरूवार आज कांग्रेस नेता संजय कनौजिया मीडिया से मुखातिब हुए इस दौरान उन्होंने एक ज्वलनशील मुद्दा उठाते हुए टेलिकॉम नीतियों को लेकर भाजपा सरकार पर सवाल उठाया है। इस दौरान कनौजिया ने एक ओर जहाँ बीएसएनएल के मुद्दे पर सरकार को घेरा तो वही एयरटेल और जिओ जैसी टेलिकॉम कंपनियां को फायदा पहुंचाने का आरोप लगाते हुए केंद्र को खटघरे में खड़ा किया है। वही कनौजिया ने बाकायदा एक कैलेंडर को जारी करते हुए कहाँ है जहाँ एक साल में 12 महीने होते है वही टेलिकॉम कपिनियों ने इसे 13 महीनों में तब्दील कर दिया है। 


टेलिकॉम कंपनियां कर रही है मनमानी 

उन्होंने आगे कहा की टेलिकॉम कंपनियां ग्राहकों को 30 दिन की बजाय 28 दिन का रिचार्ज उपलब्ध कराती है और फ़िक्र की बात यह है की अब इन दिनों की संख्या सरकार की गलत नीतियों के कारण बीएसएनएल का बुरा हाल है और कई टेलिकॉम कंपनियों की मनमानी बढ़ रही है। वही कांग्रेस नेता संजय कनौजिया के मुताबिक टेलिकॉम कंपनियों ने एक झटके में प्रीपेड प्लान 20 से 25 % तक महंगे कर दिए है । बिलिंग साइकिल 30 से घटाकर 28 और 24  दिन तक कर दी गई है। जबकि कनेक्टिविटी और स्पीड का बुरा हाल है। 


पानी, बिजली, हाउस टैक्स भी 28 दिनों में ना वसूले

एक तरफ सरकार पढ़ाई लिखाई से लेकर सारे कामकाज ऑनलाइन करने पर जोर दे रही है वही दूसरी तरफ इंटरनेट महंगा होता जा रहा है। इस तरह के डिजिटल इंडिया डिवाइड बढ़ेगा क्यूंकि आज के दौर में इंटरनेट एक बुनियाद सेवा है। यह सस्ती और सर्वसुलभ होनी चाहिए। उन्होंने यह आशंका भी जताई की कहीं सरकार टेलिकॉम कंपनियों की तर्ज पर स्कूल फीस, बिजली,पानी बिल, सीवर और हाउस टैक्स भी एक महीने की बजाय 28 दिनों में ना वसलूने लगे। 


फ्री वाई फाई सेवा का एलान 

कनौजिया ने जनता से अब इस लूट के खिलाफ एकजूट होकर आवाज बुलंद करने का आह्वान किया है। इस मौके पर राजपुर विधानसभा के कुछ एरिया में एक दिसंबर से डेमों के तौर पर फ्री वाई फाई सेवा देने का एलान किया है। यह सेवा चुनिंदा जगाओं पर शुरू होगी। इसका मकसद इंटरनेट से वंचित बच्चों को पढाई लिखाई में मदद करना है। साथ ही उन्होंने ये वादा किया की अगर जनता ने उन्हें मौका दिया तो वो अपनी पूरी विधानसभा में फ्री वाई फाई देकर हर वर्ग के लिए इस परेशानी को दूर करने का काम करेंगे।