रुद्रपुर: 100 रुपये झगड़े के पीछे 21 वर्षीय किशोर हुई हत्या

हत्या के उसका शव इस कदर विकृत कर दिया गया जिससे शव की पहचान न हो पाए।

रुद्रपुर: 100 रुपये झगड़े के पीछे 21 वर्षीय किशोर हुई हत्या
यूएस नगर के रुद्रपुर में 100 रुपये भुगतान को लेकर हुए विवाद में 21 वर्षीय किशोर की हत्या कर दी। सद्दाम अहमद, जो छोटा मोटा काम करके अपनी आजीविका चलता था पिछले दो दिनों से वह लापता था। हत्या के उसका शव इस कदर विकृत कर दिया गया जिससे शव की पहचान न हो पाए। एक कबाड़ व्यापारी, उसकी पत्नी और उसके तीन सहायकों पर हत्या का मामला दर्ज किया गया है लेकिन तीनों आरोपियों पुलिस के गिरफ्त से फरार है। राठौर ने कहा रुद्रपुर एसएचओ विक्रम राठौर के मुताबिक सुभाष कॉलोनी के नवी अहमद ने 19 मई की रात को पुलिस से संपर्क कर बताया कि उनका बेटा लापता है। 

उन्होंने कहा कि 18 मई की शाम को, सद्दाम को स्क्रैप डीलर नवाब हसन, उनकी पत्नी और तीन अन्य लोग ले गए थे। काफी समय के बाद जा किशोर घर वापस नहीं आया तो परिजनों की चिंता हुई और स्थानीय थाने में अपहरण का मामला दर्ज किया और जांच शुरू की। एसएचओ ने कहा हमने शिकायत में नामजद शाहनवाज और इरफान को हिरासत में लिया। उन्होंने खुलासा किया कि सद्दाम का नवाब हसन के साथ उसके द्वारा बेचे गए स्क्रैप के लिए 100 रुपये के भुगतान को लेकर बहस हुई थी। यह हिंसक हो गया और हसन और उसकी पत्नी ने तीन सहयोगियों के साथ सद्दाम का गला घोंट दिया। इसके बाद उन्होंने पहचान छिपाने के प्रयास में उनके चेहरे पर कई बार चाकू से वार किया। 

आरोपियों ने हत्या के बाद शव को ठिकाने लगाने के इरादे से पुरे एक दिन तक अपने कब्जे में रखा। इसके बाद आरोपियों ने शव को रजाई में लिपटा कर उसे धिमरी नदी के किनारे एक खाई में फेंका दिया। एसएचओ ने कहा कि आईपीसी की धारा 365 (अपहरण) और 302 (हत्या) के तहत मामला दर्ज किया गया है और पांचों आरोपियों को पकड़ने के लिए टीमों का गठन किया गया है।