बढ़ती महंगाई ने बिगाड़ा रसोई का बजट, टमाटर हुए 80 रुपये किलों, देखें सूची

जहाँ एक ओर बढ़ती महंगाई ने आम जनता की कमर तोड़ दी है वही इस महंगाई से ग्रहणीजन में अब तंग आ चुकी है।

बढ़ती महंगाई ने बिगाड़ा रसोई का बजट, टमाटर हुए 80 रुपये किलों, देखें सूची

जहाँ एक ओर बढ़ती महंगाई ने आम जनता की कमर तोड़ दी है वही इस महंगाई से ग्रहणीजन में अब तंग आ चुकी है। पहाड़ी हिस्सों में भारी बारिश से टमाटर की फसलें ख़राब हो चुकी है ऐसे में अब ज्यादत सब्जियां बाहर शहरों से आ रही है। दिल्ली आ रहे टमाटर की कीमतें आसमान छू रही है साथ ही राजस्थान, मध्यप्रदेश और बंगलोरे से टमाटरों की आपूर्ति हो रही है। इस महंगाई में गृहणियों के सर पर भोज बना चूका है इस महंगाई में खाएं क्या और बचाएं क्या। 


देहरादून में सब्जियों के दाम 

टमाटर - 80  
प्याज - 50
लौकी - 30 से 40  
शिमला मिर्च - 60 से 70 
मटर - 120
मीठी करेला और फूलगोभी - 40 
भिंडी - 80
बैगन - 30 से 40
पत्ता गोभी - 30 रुपये


वही अन्य शहरों में 

हरिद्वार - टमाटर - 60, प्याज - 40, मूली - 20, मटर - 120, पत्ता गोभी - 30, पालक - 35, करेला - 40, शिमला  लौकी - 20, पत्ता गोभी - 30, मिर्च - 60, आलू - 30, बैगन - 30 रुपये

ऋषिकेश - टमाटर - 80, प्याज - 40, आलू - 30,बैगन - 30, लौकी - 30, भिंडी - 70,  फूलगोभी - 40, पत्ता गोभी - 30, मटर - 80 से 100 रुपये

कोटद्वार - टमाटर - 60, बंद गोभी 30, लौकी - 40, बैगन - 30, फूल गोभी - 30 रुपये 

श्रीनगर - टमाटर - 80, आलू - 30, फ्रेंच बीन - 80, बीन - 60, प्याज - 40, फूलगोभी - 40, बैंगन - 40, करेला - 60, भिंडी - 80, लौकी - 60, शिमला मिर्च - 80, पत्ता पत्ता गोभी – 40 रुपये 

उत्तरकाशी - टमाटर - 80, भिंडी - 80, प्याज - 50, शिमला मिर्च - 60, बीन्स - 120, फूलगोभी - 60, बैंगन - 60, खीरा - 60, आलू - 25 से 30, लौकी - 60, गोभी - 40 रुपये।

पुरोला - टमाटर - 80, करेला - 80, भिंडी - 80, लौकी - 80, गाजर - 60, बंद गोभी - 50, पत्ता गोभी - 30, बीन - 120, मटर - 120, शिमला मिर्च - 120 रुपये

नई टिहरी - टमाटर - 80, प्याज - 40, आलू - 30,मटर - 120, फूलगोभी - 40,  शिमला मिर्च - 80 किलो, गोभी - 30 किलो, भिंडी - 80 रुपये 

चमोली- टमाटर- 80, प्याज-50, शिमला मिर्च-80, लौकी- 40,पत्ता गोभी-30, फूलगोभी-60, भिंडी-60, बैंगन-40, आलू-30, करेला- 30 रुपये
 

छोटी सब्जी मंडी के विक्रेता आशु आहूजा कहते है की वह टमाटर पांच से छः सौ रुपये कैरट खरीदते है लेकिन जैसे ही टमाटर के दामों में उछाल आया उन्होंने टमाटर बेचना ही छोड़ दिया। उन्होंने कहा की जो सब्जी पहले दो सौ रुपये में आती थी वहीं सब्जी अब दुगने दामों में मिल रही है यानी की चार सौ रुपये में। 


पटेल नगर की सरिता कहती है की जिस तरह सब्जियों के दाम बढ़ते जा रहे है इस हालात में रसोई का खर्च निकालना बहुत मुश्किल हो गया है। इस महंगाई में घर चालना दिन पर दिन मुश्किल हो रहा है।