"मुझे भी जन्म लेने दो शिव के महा में शक्ति का संकल्प"लेकर रेखा आर्य ने शुरू की कावड़ यात्रा

महिला एवं बाल विकास मंत्री रेखा आर्य हमेशा ही महिलाओं एवं बेटियों के हित में कई अहम फैसले लेते और आवाज उठाती दिखाई देती है

"मुझे भी जन्म लेने दो शिव के महा में शक्ति का संकल्प"लेकर रेखा आर्य ने शुरू की कावड़ यात्रा

महिला एवं बाल विकास मंत्री रेखा आर्य हमेशा ही महिलाओं एवं बेटियों के हित में कई अहम फैसले लेते और आवाज उठाती दिखाई देती है एक बार फिर कैबिनेट मंत्री ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के संदेश एवं लैंगिक असमानता को खत्म करने के संकल्प के साथ कावड़ यात्रा निकाली हरिद्वार में हर की पैड़ी से 25 किलोमीटर की पैदल कावड़ यात्रा ऋषिकेश में जाके संपन्न होगी।

 

रेखा आर्य ने सुबह हर की पैड़ी पहुंचकर जल भरा इसके बाद वहां से पैदल चलकर ऋषिकेश में वीरभद्र मंदिर में जलाभिषेक करने के लिए रवाना हो गई, इस दौरान उनके साथ आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सहायिका सुपरवाइजर सहित 200 महिलाएं शामिल हैं।

 



आपको बता दें कि मंत्री रेखा आर्य  ने कहा कि लैंगिक असमानता को खत्म करने को लेकर सरकार ने संकल्प लिया है और सावन के पवित्र महीने में एक संदेश उन माता-पिता और समाज के लिए भी है जो लड़कियों को बोझ समझते हैं इसलिए हमने अपने संकल्प का नाम भी (मुझे भी जन्म लेने दो शिव के महा में शक्ति का संकल्प) दिया है।

 

बेटियों को गर्भ में मारना भ्रूण हत्या करना एक दंडनीय अपराध है आज भी यह अपराध चोरी-छिपे किए जा रहे हैं, जो भी ऐसा करने वालो की शिकायत करेगा उसका नाम गोपनीय रख कर उसे इनाम दिया जाएगा और ऐसा दंड करने वालो के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएगी।