बारिश का बरपा कहर उत्तरकाशी में देर रात फटा बादल, घर हुए ध्वस्त कुछ लोग हुए लापता

खराब मौसम के चलते उत्तरकाशी में फटा बादल सीएम धामी ने डीएम को राहत व जल्द से बचाव कार्य करने के दिए निर्देश

बारिश का बरपा कहर उत्तरकाशी में देर रात फटा बादल, घर हुए ध्वस्त कुछ लोग हुए लापता

जहां गर्मी पड़ते ही लोग मानसून का इंतजार करते है वही मानसून आता तो जरूर है बारिश की राहत के साथ दर्द और सैलाब भी दे जाता है। खराब मौसम के चलते देर रात लगभग दस के बजे के करीब उत्तरकाशी में बदल फट गया। बादल फटने से तीन लोगों की मौत हो गई। साथ मांडों में एक महिला व एक बच्चे का शव बरामद किया गया है। बादल फटने से अभी भी चार लोग लापता है।  

घटना की सुचना मिलते ही सीएम धामी ने डीएम को राहत व जल्द से बचाव कार्य करने के निर्देश दिए है। वही उन्होंने कहा की, रविवार शाम उत्तरकाशी जनपद के ग्राम कंकराड़ी, मांडों में अतिवृष्टि/बादल फटने की दुःखद घटना हुई है। जिला प्रशासन, एसडीआरएफ, पुलिस मौके पर पहुँच गयी है। डीएम को राहत और बचाव कार्य शीर्ष प्राथमिकता पर करने के निर्देश दिए हैं। ईश्वर से प्रभावितों की कुशलता की कामना करता हूँ।

उत्तराखंड में पिछले चौबीस घंटे से बारिश लगातार बनी हुई है।  एसडीआरएफ व आपदा प्रबंधन विभाग की टीम ने गणेश बहादुर पुत्र काली बहादुर, रविन्द्र पुत्र गणेश बहादुर, रामबालक यादव पुत्र मकुर यादव को रेस्क्यू कर अस्पताल पहुंचाया। घायलों का इलाज चल रहा है। डॉक्टरों के अनुसार तीनों खतरे से बाहर हैं।  जानकारी के अनुसार, मांडो गांव में नौ मकानों में पानी घुस गया। जबकि दो मकान पूरी तरह से धवस्त हो गए हैं। कई जगहों पर वाहनों के बहने की भी सूचना है। 

म़तकों के नाम:
1- माधरी पत्नी देवानन्द, उम्र 42 वर्ष, ग्राम मांडो
2- रीतू पत्नी दीपक, उम्र 38 वर्ष, ग्राम मांडो
3- कुमारी ईशू पुत्री दीपक, उम्र 06 वर्ष, ग्राम मांडो