Uttarakhand: परियोजनाओं पर होगा बिजली सरकार का फोकस

राज्य में जलविद्युत परियोजनाओं का रास्ता खोलने की कोशिश कर रही सरकार का तीन प्रमुख परियोजनाओं पर विशेष फोकस है।

Uttarakhand: परियोजनाओं पर होगा बिजली सरकार का फोकस

राज्य में जलविद्युत परियोजनाओं का रास्ता खोलने की कोशिश कर रही सरकार का तीन प्रमुख परियोजनाओं पर विशेष फोकस है। इन परियोजनाओं से 1260 मेगावाट बिजली पैदा होगी। लखवार परियोजनाः 300 मेगावॉट क्षमता की इस परियोजना को 1976 में स्वीकृति मिली थी, लेकिन 1992 में इसका काम बंद कर दिया गया।

 

इस परियोजना में देहरादून के पास यमुना नदी पर 204 मीटर ऊंचा कंक्रीट का बांध बनाया जाना है। इस परियोजना का काम उत्तराखंड जल विद्युत निगम लिमिटेड देख रहा है। इसके टेंडर भी जारी कर दिए गए हैं। उम्मीद है कि जल्द ही काम शुरू हो जाएगा।

 

किशाऊ बांध परियोजना:- यह बांध देहरादून के पास टोंस नदी पर हिमाचल और उत्तराखंड के बीच बनाया जाना प्रस्तावित है। इस परियोजना से 660 मेगावाट बिजली पैदा होगी। परियोजना से उत्तराखंड, हिमाचल, यूपी, राजस्थान, हरियाणा और दिल्ली के अलावा दिल्ली को पीने का पानी और सिंचाई का पानी मिलेगा।