उत्तराखंड की बेकरी ग्रोथ सेंटर महिलाओं से वर्चुअली संवाद करेंगे पीएम मोदी

रुद्रपुर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को रुद्रपुर के बेकरी ग्रोथ सेंटर, शक्ति सहायता समूह में काम करने वाली स्थानीय महिलाओं से बातचीत करेंगे।

उत्तराखंड की बेकरी ग्रोथ सेंटर महिलाओं से वर्चुअली संवाद करेंगे पीएम मोदी

रुद्रपुर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को रुद्रपुर के बेकरी ग्रोथ सेंटर, शक्ति सहायता समूह में काम करने वाली स्थानीय महिलाओं से बातचीत करेंगे। महिलाएं बाजरा / रागी (मदुआ) बिस्कुट बनाती हैं। अपनी स्थापना के केवल आठ महीनों में, इस केंद्र ने मल्टीग्रेन बिस्कुट सहित कई बेकरी उत्पाद तैयार करके 38.72 लाख रुपये का कारोबार किया है। केंद्र राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (एनआरएलएम) के तहत ग्रामीण महिलाओं के जीवन स्तर को ऊपर उठाने के राज्य के प्रयास का हिस्सा है। इस योजना से अब तक 50 हजार महिलाओं को जोड़ा जा चुका है।


आठ महीने में 89 लाख का बिजनेस 

रूद्रपुर की महिला समूह ने अपने हुनर के जरिए एक 89 लाख रुपए से ज्यादा का बिजनेस कर लोगों को हैरान कर दिया। जब कोरोना के कठिन समय में सब हताश और निराश थे उस वक़्त रुद्रपुर की महिलाएं अपने हुनर के दम पर अपना छोटा सा बेकरी का बिजनेस कर रही थी। उनके इस हुनर और समझदारी से हमारे देश के पीएम इतने प्रभावित हुए है की आज पीएम इन महिलाओं से वर्चुअली संवाद करेंगे। 

88 हजार बिस्किट के पैकेट किए तैयार 

वही महिलाओं का हुनर इस कदर कार्य प्रगति की तरफ दौड़ा की महिलाओं ने एक साल के अंदर दस लाख रुपये से ज्यादा मुनाफा कमाया। बल्कि कई महिलाओं को इसके जरिए रोजगार भी मुहैया कराया गया। महिलाओं ने खुद मिलकर आठ महीने में मंडुए के 88 हजार बिस्किट के पैकेट तैयार किए और 89 लाख 32 हजार के बिस्किट बेचे। महिलों के कार्य को इतना सराहा गया की इन्हे 55 हजार का मल्टीग्रेन  बिस्किट तैयार करने का आर्डर मिला है। 


महिलाओं से लेंगे बेकरी ग्रोथ की जानकारी 

1अक्टूबर 2020 को राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत महिला सहायता समूह के जरिए बेकरी ग्रोथ सेंटर की शुरुआत की थी। महिलाओं के इस समूह कार्य पीएम काफी प्रभावित हुए है और इसी के चलते पीएम मोदी महिलाओं से बेकरी ग्रोथ सेंटर के बारे में जानकारी भी लेंगे। खबर लगते ही जिले में वर्चुअली संवाद के लिए तैयारी शुरू कर दी है। 

ख़ुशी से झूम उठा नारी शक्ति समूह 

महिला सहायता समूह की संचालिका चंद्रमणि दास ने बताया की पीएम की जानकारी मिलते ही समूह की सारी महिलाएं ख़ुशी से झूम उठी है महिलाओं की ख़ुशी का ठिकाना ही नहीं रहा। उन्होंने कहा उत्तराखंड में एक मात्र समूह है जो लगातार अपने हुनर के दम पर तरक्की कर रहा है। एनआरएलएम एवं डीआरडीए अधिकारी हिमांशु जोशी ने बताया की इस बेकरी के बिस्किट आंगनबाड़ी केंद्रों में एक से तीन साल के बच्चों को वितरित किया जाता है। इस महिला सहायता समूह में दो पालियों के अंदर करीब 30 महिलाए काम कर रही है। 

मिल रही है 7,500 रुपए सैलरी 


बेकरी ग्रोथ सेंटर की शुरुआत जब अक्टूबर में की गई थी उस वक़्त इस बिजनेस में केवल पंद्रह महिलाएं जुडी थी इसके बाद धीरे धीरे अन्य महिलाओं के लिए भी रोजगार के अवसर खुलते गए और तीस महिलाओं का एक समूह बन गया। इसके बाद दो शिफ्ट में पलियां रखी गई है। महिलाओं को 7,500 रुपए सैलरी दी जा रही है साथ ही एक फ़ूड वन भी ख़रीदा गई है जो पंतनगर स्थित सिडकुल में खाना बनाकर सप्लाई करता है।