मेंस हॉकी टीम फाइनल से बाहर, बेल्जियम के हाथों मिली हार

टोक्यो ओलंपिक में हॉकी के दूसरे सेमीफाइनल में भारत को बेल्जियम के हाथों हार का सामना करना पड़ा।

मेंस हॉकी टीम फाइनल से बाहर, बेल्जियम के हाथों मिली हार

टोक्यो ओलंपिक में हॉकी के दूसरे सेमीफाइनल में भारत को बेल्जियम के हाथों हार का सामना करना पड़ा। भारतीय टीम ने शुरुआती बढ़त के बावजूद मैच को अपने हाथों से गंवाया। दुनिया की नंबर दो टीम बेल्जियम ने भारत को न सिर्फ बुरी तरह रौंदा, बल्कि उसका विजयी रथ रोककर फाइनल का टिकट भी हासिल कर लिया। विश्व चैंपियन बेल्जियम के आक्रामक खेल के आगे भारतीय डिफेंस कहीं नहीं टिक पाई और 2-5 से हार गई।


हार के बाद भी भारत के मेडल की उम्मीद खत्म नहीं हुई है. ब्रॉन्ज मेडल का मुकाबला 5 अगस्त को होना है. दूसरे सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया और जर्मनी की टीमें भिड़ेंगी. इस मैच में हारने वाली टीम भारत के खिलाफ उतरेगी. भारत को 1980 के बाद पहले मेडल का इंतजार है। 


पहले सेमीफाइनल में बेल्जियम से शानदार शुरुआत की. दूसरे मिनट में पेनल्टी कॉर्नर पर लॉक लुइपर्ट ने गोल करके बेल्जियम को 1-0 की बढ़त दिलाई. इसके बाद भारतीय टीम ने वापसी की. 7वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर पर हमरमनप्रीत सिंह ने गोल करके स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया। 


भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने भले ही अपने अधिकतर मुकाबलों में जोरदार प्रदर्शन किया, लेकिन सेमीफाइनल के अहम मैच में भारतीय टीम का डिफेंस एकदम बिखरा नजर आया। इसका फायदा उठाते हुए दुनिया की दूसरे नंबर की टीम बेल्जियम ने लगातार गोल दागे, जिसके चलते भारत को हार का सामना करना पड़ा।