बनाएं हेल्दी चना दाल कबाब

हम अक्सर सोचते हैं कि पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थ स्वादिष्ट नहीं होते हैं और इसीलिए हम इनसे परहेज करते हैं।

बनाएं हेल्दी चना दाल कबाब

हम अक्सर सोचते हैं कि पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थ स्वादिष्ट नहीं होते हैं और इसीलिए हम इनसे परहेज करते हैं। लेकिन, विशेषज्ञों के अनुसार, यह खाना पकाने की कला, सामग्री का सही विकल्प और भाग का आकार है, जो पूरी तरह से किसी भी भोजन को स्वस्थ और स्वादिष्ट भी बना सकता है। वही अगर हेल्थ की बात की जाए तो घर पर प्रोटीन से भरपूर चना दाल कबाब बना कर उसका आनंद ले सकते है। हमारे आहार में प्रोटीन का नुस्खा और महत्व साझा करते हुए, उन्होंने लिखा, "70 प्रतिशत से अधिक भारतीय माताएं मिथकों में विश्वास करती हैं कि प्रोटीन को पचाना मुश्किल होता है, वजन बढ़ता है, केवल 'बॉडी-बिल्डर्स' के लिए होता है और खरीदना महंगा होता है। उस मिथक को तोड़ने में आपकी मदद करना और आपको इस आवश्यक मैक्रोन्यूट्रिएंट के सेवन को बढ़ाने के आसान तरीके भी प्रदान करना। पूजा के अनुसार, यह शाम का भरपेट नाश्ता है, जिसे सुबह के समय टिफिन बॉक्स स्नैक के रूप में भी पैक किया जा सकता है।

आवश्यक सामग्री

इस हेल्दी स्नैक को बनाने के लिए आपको चाहिए 1 कप भीगी हुई चना दाल, 3-5 लहसुन की कलियां, 1 इंच अदरक, 1 हरी मिर्च, 1 छोटा चम्मच चाट मसाला, 1/2 छोटा चम्मच काली मिर्च, 1 चुटकी हींग, नमक स्वादानुसार, 1 बड़ा चम्मच जीरा पाउडर, ½ छोटा चम्मच हल्दी पाउडर, 1 छोटा चम्मच चिली फ्लेक्स, 2 छोटा चम्मच धनिया, 2 बड़े चम्मच प्याज, 1 छोटा चम्मच नींबू का रस, 1 बड़ा चम्मच तिल 

चना दाल कबाब कैसे बनाते हैं? 

आपको बस इतना करना है कि भीगी हुई चना दाल, अदरक, मिर्च के साथ चाट मसाला, काली मिर्च, हींग, नमक, जीरा पाउडर, हल्दी और चिली फ्लेक्स मिलाएं। इसके बाद, मिश्रण में सीताफल, नींबू का रस, प्याज और तिल डालें और छोटे कबाब को आकार दें और कबाब को सुनहरा भूरा होने तक तलें। आप इन्हें एयर फ्रायर में भी फ्राई कर सकते हैं। गरमागरम डिप या अपनी पसंद की चटनी के साथ परोसें। 

चना दाल के फायदे 

विशेषज्ञों के अनुसार, 100 ग्राम चना दाल में 13 ग्राम प्रोटीन, 252 कैलोरी, 0 कोलेस्ट्रॉल, 0 ट्रांस फैट, 199 मिलीग्राम पोटेशियम और 11 ग्राम आहार फाइबर होता है। एनल्स ऑफ न्यूट्रिशन एंड मेटाबॉलिज्म जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, चना दाल मानव हृदय के लिए बहुत अच्छी है और खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करती है। इसके अलावा, समृद्ध प्रोटीन सामग्री प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाती है। जर्नल 'न्यूट्रिएंट्स' के अनुसार चना दाल टाइप 2 डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए भी अच्छी है, क्योंकि इसमें ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है। और यह वजन पर नजर रखने वालों के लिए भी अच्छा है, क्योंकि चना दाल तृप्ति की भावना को बढ़ाती है और अधिक खाने की आदत से बचने में मदद करती है।