केरल: हर्षोउल्लास के साथ मनाया जा रहा है ओणम, राष्ट्रपति व पीएम ने दी केरलवासियों को बधाई

महामारी के बाद धूमधाम से मनाया जा रहा है ओणम पर्व, भाईचारे और सद्भाव" से जुड़ा है यह पर्व

केरल:  हर्षोउल्लास के साथ मनाया जा रहा है ओणम, राष्ट्रपति व पीएम ने दी केरलवासियों को बधाई

ओणम केरलवासियों का पारंपरिक फसल उत्सव है और 2018 में भीषण बाढ़ और अगले साल एक और बाढ़ के साथ हुई, और फिर दो साल की महामारी, केरलवासियों ने लगातार चौथे वर्ष ओणम का उत्सव नहीं माना पाए थे लेकिन इस साल केरलवासी ओणम बेहद हर्षोउल्लास के साथ माना रहे है। 

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को ओणम के अवसर पर लोगों को बधाई देते हुए कहा कि यह त्योहार "सकारात्मकता, जीवंतता, भाईचारे और सद्भाव" से जुड़ा है। प्रधानमंत्री ने त्योहार मनाने वाले सभी लोगों के अच्छे स्वास्थ्य और कुशलक्षेम की भी उम्मीद की और सद्भाव से जुड़े त्योहार ओणम के विशेष अवसर पर शुभकामनाएं दी। 

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने शुक्रवार को ओणम की पूर्व संध्या पर केरलवासियों को बधाई दी और यह भी कहा कि यह त्योहार समाज में सौजन्य, प्रेम और भाईचारा को बढ़ावा देता है। राष्ट्रपति भवन द्वारा जारी एक बयान में कहा की ओणम के शुभ अवसर पर मैं सभी देशवासियों, विशेषकर भारत और विदेशों में रहने वाले केरल के बहनों और भाइयों को ढ़ेर सारी बधाई और शुभकामनाएं देता हूं। 

राष्ट्रपति ने अपने संदेश में कहा, कि खेतों में नई फसलों की उपज के उपलक्ष्य में मनाया जाने वाला यह त्योहार किसान की अथक मेहनत और प्रकृति के प्रति कृतज्ञता को दर्शाता है। इस अवसर पर आइए हम सब मिलकर अपने देश की प्रगति और समृद्धि की दिशा में आगे बढ़ने का संकल्प लें। 

ओणम चिंगम के महीने में पड़ता है, जिसे ग्रेगोरियन कैलेंडर के अनुसार अगस्त-सितंबर के दौरान चिह्नित किया जाता है। यह दयालु और बहुत प्यारे राक्षस राजा महाबली का सम्मान करने के लिए मनाया जाता है, जिनके बारे में माना जाता है कि वे इस त्योहार के दौरान केरल लौट आए थे।