कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा बीजेपी का साथ कार्यशैली से नाराज थे जितिन प्रसाद

सबसे बड़ी खबर यूपी के पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद ने थामा बीजेपी का दामन

कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा बीजेपी का साथ कार्यशैली से नाराज थे जितिन प्रसाद

राजनीती गलियारों से इस वक़्त की सबसे बड़ी खबर सामने आ रही है की अब यूपी के पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद कांग्रेस का साथ छोड़कर आज बीजेपी का दामन थामने जा रहे है। बता दे की अनिल बलूनी ने ट्वीट में लिखा कि आज एक दिग्गज शख्सियत दोपहर 1 बजे भाजपा मुख्यालय में पार्टी में शामिल होगी। वहीं केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने जितिन प्रसाद को पार्टी में शामिल करवाया है लेकिन राहुल गांधी के करीब रहने वाले जितिन को अब कांग्रेस पार्टी रास नहीं आई। वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया के बाद कांग्रेस सांसद राहुल गांधी की टीम से एक और बेहद अहम विकेट गिरा है। 

पार्टी छोड़ने की क्या है वजह 

कहा जा रहा है की  कांग्रेस के बड़े ब्राहम्ण चेहरों में से जाने माने नेता जितिन प्रसाद पिछले कई दिनों से पार्टी हाईकमान से नाराज थे। वह कांग्रेस में तवज्जो न मिलने और यूपी कांग्रेस नेताओ से अपनी नाराजगी जाहिर कर चुके है। लेकिन जितिन प्रसाद की शिकायत को पार्टी हाई कमान ने नजर अंदाज कर दिया और इसी नाराजगी की चलते जितिन कांग्रेस पार्टी का दामन छोड़ने को तैयार हो गए। पिछले कुछ समय से पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद और आनंद शर्मा भी कांग्रेस की कार्यशैली से नाराज चल रहे हैं। पिछले साल सोनिया गांधी को 23 कांग्रेस नेताओं ने चिट्ठी लिखकर पार्टी की कार्यशैली में बड़े बदलावों की मांग की गई थी। इनमें आनंद शर्मा और गुलाम नबी आजाद भी शामिल थे।


कौन है जितिन प्रसाद 

जितिन प्रसाद के पिता जितेन्द्र प्रसाद भारत पूर्व प्रधानमन्त्री राजीव गांधी और पी.वी.नरसिम्हा राव के राजनितिक सलाहकार रह चुके है। वहीं उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में जन्मे 48 वर्षीय जितिन प्रसाद कांग्रेस के दिवंगत नेता और केंद्रीय मंत्री जितेंद्र प्रसाद के बेटे हैं। जितिन ने अपना राजनीतिक करियर साल 2001 में कांग्रेस के युवा संगठन यूथ कांग्रेस के साथ महासचिव के तौर पर शुरू किया था। साल 2004 में उन्होंने अपने गृह जिले शाहजहांपुर से अपना पहला लोकसभा चुनाव जीता। 


जितिन प्रसाद ने सन् 2001 में भारतीय युवा कांग्रेस में सचिव बने,सन् 2004 में अपने गृह लोकसभा सीट, शाहजहाँपुर से 14 वीं लोकसभा चुनाव में किस्मत आजमायी तथा विजय भी प्राप्त हुई अपने पहले कार्यकाल में जितिन प्रसाद को कांग्रेस सरकार में इस्पात राज्य मंत्री बनाया गया। वे मनमोहन सिंह सरकार में सबसे युवा मंत्रियों में से एक थे।  साल 2009 में उन्होंने धरौरा से चुनाव लड़ा। उन्होंने मीटर गेज लाइन को ब्रॉडगेज में बदलने का वादा किया। जिससे उन्हें भरपूर जनसमर्थन मिला।  उन्होंने दो लाख वोट से जीत हासिल की थी।