सत्र के तीसरे दिन में सीएम धामी ने दी सरकारी कर्मचारियों और पेंशनरों को सौगात

उत्तराखंड विधानसभा का आज तीसरा दिन था इस तीसरे दिन में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पेंशनरों को खुशियों की सौगात दे दी.

सत्र के तीसरे दिन में सीएम धामी ने दी सरकारी कर्मचारियों और  पेंशनरों को सौगात

उत्तराखंड विधानसभा का आज तीसरा दिन था इस तीसरे दिन में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पेंशनरों को खुशियों की सौगात दे दी. बुधवार आज उन्होंने सभा सरकारी कर्मचारियों और  पेंशनरों के लिए बड़ी घोषणा की। उन्होंने सदन में तीन लाख से अधिक कर्मचारियों को व पेंशनरों बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता मिलगा.वही महंगाई भत्ता में ग्यारह प्रतिशत बढ़ोत्तरी की जाएगी. मुख्यमंत्री की इस घोषणा से राज्य 1.60 लाख कर्मचारी और 1.50 लाख पेंशनरों को लाभ मिलेगा. बताया कि सितंबर महीने के वेतन में बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता मिलेगा। सरकार जुलाई और अगस्त माह का एरियर भी देगी। इसके बाद अब महंगाई भत्ता 28 प्रतिशत हो जाएगा.

हरीश धामी ने की सांसद अनिल बलूनी की तारीफ 

वही बीते मंगलवार को सदन में विधानसभा सत्र के दौरान धारचूला से विधायक हरीश धामी ने राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि मोबाइल नेटवर्क के क्षेत्र में सांसद अनिल बलूनी ने जो प्रयास किए हैं, वह प्रशंसनीय हैं। मंगलवार को अपने क्षेत्र में मोबाइल कनेक्टिविटी को लेकर नियम-58 के तहत कांग्रेस विधायक हरीश धामी ने सदन में बोलना शुरू किया। उन्होंने कहा कि उनके क्षेत्र में आज भी 50 प्रतिशत भू-भाग ऐसा है, जहां मोबाइल नेटवर्किंग नहीं है। उन्होंने कहा कि इस वजह से बच्चे ऑनलाइन शिक्षा ग्रहण नहीं कर पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी ने मोबाइल नेटवर्किंग के क्षेत्र में जो काम किया है, वह प्रशंसनीय है। 

10 विधेयक बने अधिनियम

सत्र के दूसरे दिन 10 विधेयक अधिनियम बन गए हैं। जिसमें उत्तराखंड विनियोग उत्तराखंड, देवभूमि उत्तराखंड विश्वविद्यालय अधिनियम, उत्तराखंड उत्तर प्रदेश नगर निगम संशोधन अधिनियम-1916, उत्तराखंड उत्तर प्रदेश नगर निगम संशोधन अधिनियम-1959, उत्तराखंड पंचायती राज संशोधन अधिनियम, इक्फाई विश्वविद्यालय संशोधन अधिनियम,उत्तराखंड राज्य कृषि उपज एवं पशुधन विपणन प्रोत्साहन एवं सुविधा अधिनियम,सूरजमल विश्वविद्यालय अधिनियम, उत्तराखंड उत्तर प्रदेश जमींदारी विनाश और भूमि व्यवस्था अधिनियम,स्वामी राम हिमालयन विश्वविद्यालय अधिनियम बनाएं गए है.