आईलीडस ऑक्सिलियर्य सर्विस कंपनी ने अपने 450 कर्मियों को लगवाई वैक्सीनेशन

देश भर में वैक्सीनेशन अभियान को सफल बनाया जा रहा है और इसी क्रम में आईलीडस ऑक्सिलियर्य सर्विस कंपनी ने अपने 450 कर्मियों को वैक्सीन लगवाई

आईलीडस ऑक्सिलियर्य सर्विस कंपनी ने अपने 450 कर्मियों को लगवाई वैक्सीनेशन

देशभर में सभी राज्यों में वैक्सीन अभियान सफलता पूर्वक किया जा रहा है राज्य के सभी प्राइवेट संस्थाएं और सरकारी कार्यालयों में वैक्सीन अभियान चलाया गया और इस कार्य को सफल बनाया गया। वहीं इसी क्रम में आज शनिवार 19 जून को देहरादून की "आईलीडस ऑक्सिलियर्य सर्विस कंपनी" ने वैक्सीनेशन अभियान का दूसरा चरण आरम्भ किया जिसमें 450 कर्मियों को वैक्सीन की पहली डोज़ दी गई। इससे पूर्व बीते 3 जून को मैक्स हेल्थ केयर अस्पताल के सहयोग से आईलीडस ऑक्सिलियर्य सर्विसेज कंपनी ने अपने सभी कर्मियों को वैक्सीनेशन कराई थी जिसका सम्पूर्ण खर्च कंपनी द्वारा किया गया। जिसका लाभ सभी कर्मियों को मिला। वहीं शनिवार आज कंपनी के उन कर्मियों को वैक्सीनेशन कराया गया जिनका वैक्सीनेशन 3 जून को नहीं हो पाया था साथ ही इस सफल वैक्सीनेशन कार्यक्रम को विनोद ऑर्थो के सहयोग से पूरा किया गया। 

आईलीडस ऑक्सिलियर्य सर्विस कंपनी की संचालक अनुभा सिन्हा का कहना है की वैक्सीन अभियान की पहल अपने कर्मियों की सुरक्षा को प्राथमिकता देना है। जिससे इस कंपनी के सभी कर्मी कोविड वायरस की चपेट में ना आए। क्यूंकि इससे पहले उत्तराखंड में कोविड के हालात नियंत्रित नहीं थे जिसकी वजह से कंपनी में आधे ही कर्मी आ रहे थे बाकि कर्मियों की दिक्कतों को मद्देनजर रखते हुए उन्हें वर्क फ्रॉम होम की कराया जा रहा था लेकिन अब कर्मियों ने आना शुरू कर दिया है। जिसके चलते विनोद अर्थो के सहयोग से हमारे कर्मियों को वैक्सीन की पहली डोज़ दी गई। वहीं आगामी सितम्बर माह में जल्द कोविडशील्ड की दूसरी डोज़ सभी कर्मियों को दी जाएगी।  

उत्तराखंड के राज्य भर में कोरोना के हालात अनियंत्रित थे लेकिन लॉकडाउन और गाइडलाइन के नियमों का पालन करने से उत्तराखंड में कोरोना काफी हद तक नियंत्रित हो चूका है। वहीं कंपनी के कर्मी सुबोध, स्वाति रावत,और दीप्ती वर्मा और अन्य कर्मियों ने बताया की ऑफिस में काफी समय बाद वापसी करने में वैक्सीनेशन कराने का अवसर मिला कंपनी की ओर इस वैक्सीन कार्यक्रम का सभी कर्मियों ने आभार भी व्यक्त किया।