अगर आपको अंतरिक्ष में रुचि है तो इस महीने आप पांच ग्रहों को एक कतार में नग्न आंखों से देख सकेंगे

सौर मंडल के पांच ग्रह बुध, शुक्र, मंगल, बृहस्पति और शनि साथ मिलकर जून की शुरुआत से यह अद्भुत नजारा बना रहे हैं।

अगर आपको अंतरिक्ष में रुचि है तो इस महीने आप पांच ग्रहों को एक कतार में नग्न आंखों से देख सकेंगे

अगर आपको अंतरिक्ष में रुचि है तो जून का महीना आपके लिए बेहद खास होने वाला है। इस महीने आप पांच ग्रहों को एक कतार में नग्न आंखों से देख सकेंगे। इन ग्रहों को बिना किसी उपकरण की मदद के देखा जा सकता है। सौर मंडल के पांच ग्रह बुध, शुक्र, मंगल, बृहस्पति और शनि साथ मिलकर जून की शुरुआत से यह अद्भुत नजारा बना रहे हैं। पूरे महीने सुबह के समय, जल्दी उठने वाले ग्रहों को पूर्व में नीचे से दक्षिण में ऊपर तक आसमान में देख सकते हैं। खगोलविद इस घटना को संगम (Conjunction) कहते हैं।

इन ग्रहों के नाम हैं- बुध (Mercury), शुक्र (Venus), मंगल (Mars), बृहस्पति (Jupiter) और शनि (Saturn)। यह दुर्लभ नजारा 24 जून को देखा जा सकेगा। ज्यादातर घटनाओं के बारे में तो पता ही नहीं चलता, लेकिन अगर हम आपसे पूछें कि क्या आपने कभी अंतरिक्ष में ग्रहों की परेड या ग्रहों का संगम देखा है? तो ज्यादातर का जवाब 'ना' में ही होगा। 

अंतरिक्ष की अद्भुत घटनाओं में से एक है ग्रहों का एक लाइन में आना। करीब 18 साल बाद अंतरिक्ष में ऐसी ही खगोलीय घटना घटने जा रही है। ग्रह आज अंतरिक्ष में परेड निकाल रहे हैं। आज यानी 24 जून को अंतरिक्ष में पांच ग्रह एक सीधी लाइन में नजर आएंगे। बुध (Mercury), शुक्र (Venus), मंगल (Mars), बृहस्पति (Jupiter) और शनि (Saturn) को हम दूरबीन की मदद से आज एक लाइन में देख सकते हैं।

वैसे तो दो से तीन ग्रहों का एक सीध में दिखना सामान्य है, लेकिन पांच ग्रहों का कंजंक्शन (संयोजन) अपने आप में अनूठा है। इस नजारे को 'ग्रह परेड' (Planet Parade) के नाम से भी जाना जाता है। इसकी कोई वैज्ञानिक परिभाषा नहीं है, यह शब्द केवल इस घटना को बताने के लिए खगोल विज्ञान में इस्तेमाल किया जाता है।

सिर्फ एक घंटे देख सकेंगे नजारा

स्काई एंड टेलिस्कोप मैगजीन के मुताबिक, यह नजारा देखने के लिए आपके पास सुबह-सुबह एक घंटे का समय होगा। अंतरिक्ष प्रेमी इस कंजंक्शन को सुबह-सुबह दूरबीन की मदद से देख सकेंगे। जहां उत्तरी हेमिस्फेयर में रहने वालों को दक्षिण और पूर्व की ओर देखना होगा, वहीं दक्षिणी हेमिस्फेयर में रहने वालों को उत्तर और पूर्व की ओर देखना होगा। स्काई एंड टेलिस्कोप मैगजीन के मुताबिक, यह नजारा देखने के लिए आपके पास एक घंटे का समय होगा।

रिपोर्ट के अनुसार सभी ग्रहों में से बुध को आसानी से देखा जा सकेगा। वहीं, चंद्रमा शुक्र और मंगल के बीच स्थित होगा। इस दिन चांद अर्धचंद्राकार का होगा। हालांकि, इस दिन बुध और शनि के बीच की दूरी 107 डिग्री तक बढ़ जाएगी।

अब साल 2040 को होगा कंजंक्शन

यह घटना 3 और 4 जून को भी हुई थी। इन दो दिनों की सुबह बुध और शनि के बीच की दूरी 91 डिग्री थी। लोगों के पास इस नजारे को देखने के लिए केवल आधे घंटे का समय ही था। इससे पहले यह घटना दिसंबर 2004 को हुई थी। अगर आप 24 जून को यह नजारा देखने से चूक जाते हैं तो अगली बार इन पांच ग्रहों को एक कतार में साल 2040 में देख पाएंगे।

सितंबर तक टूट जाएगा ग्रहों का संगम

स्काईवॉचिंग एक्सपर्ट अभी से लेकर शुक्रवार के बीच किसी भी सुबह दक्षिण-पूर्वी क्षितिज की ओर देखने की सलाह दे रहे हैं। अगर मौसम साफ रहता है तो ग्रह आसानी से देखे जा सकते हैं। अगले कुछ महीनों में ग्रहों के बीच हर सुबह दूरी बढ़ती जाएगी। सितंबर तक शुक्र और शनि इस संगम से बाहर हो जाएंगे।