घाघरिया में बादल फटने के बाद रोकी गई हेमकुंड साहिब यात्रा, नहीं हुआ जान माल को नुक्सान

चमोली जिले में पढ़ने वाले फूलों की घाटी और हेमकुंड साहिब के मुख्य पड़ाव घाघरिया के समीप बादल फटने की जानकारी मिली है ।

घाघरिया में बादल फटने के बाद रोकी गई हेमकुंड साहिब यात्रा, नहीं हुआ जान माल को नुक्सान

उत्तराखंड में इन दिनों भारी बारिश की वजह से मौसम का लगातार रेड अलर्ट जारी है, वही देर रात से ही लगातार उत्तराखंड के पहाड़ से लेकर मैदानी इलाकों में तेज बारिश हो रही है जिसके चलते पहाड़ों से कई डरा देने वाली तस्वीरें भी सामने आ रही है।ऐसी ही एक खबर हेमकुंड साहिब से भी सामने आई है जहां चमोली जिले में पढ़ने वाले फूलों की घाटी और हेमकुंड साहिब के मुख्य पड़ाव घाघरिया के समीप बादल फटने की जानकारी मिली है ।

 

आपको बता दें कि घाघरिया हेमकुंड साहिब यात्रा और फूलों की घाटी का मुख्य पड़ाव है बादल फटने की सूचना मिलने के बाद चमोली प्रशासन ने एहतियातन के तौर पर हेमकुंड साहिब की यात्रा रोक दी है।डीआईजी एसटीआरएफ रिधिमा अग्रवाल ने बताया कि बादल फटने की सूचना मिलने के बाद ही तकरीबन 30 से 35 यात्रियों को रोका गया है, हालांकि हेमकुंड साहिब से वापस आने वाले यात्री ढुंगा के नए पुल से वापस आ सकते हैं भारी बारिश की वजह से हालातों पर लगातार नजर रखी जा रही है।

 

घाघरिया पड़ाव पर बादल फटने का एक वीडियो भी सामने आया है वीडियो में देखा जा सकता है कि घाघरिया मुख्य बाजार के ठीक सामने पहाड़ी टूट कर नीचे लक्ष्मण गंगा की तरफ खिसक रही है पहले तो धीरे-धीरे पहाड़ से पत्थर गिरने की आवाज सुनाई दी उसके बाद अचानक ही पहाड़ का आधा हिस्सा टूटकर नीचे की तरफ आने लगा जिसके बाद वहां पर मौजूद लोगों ने उसकी तस्वीरें कैमरे में कैद कर ली हालांकि पहाड़ टूटने से किसी को नुकसान नहीं पहुंचा बरसात के दौरान पहाड़ों पर लैंडस्लाइड की खतरनाक तस्वीरें आती रहती हैं।