भारी बारिश का बरसा कहर, जम्मू कश्मीर से लेकर हिमाचल प्रदेश तक मची तबाही

भारी बारिश के चलते जम्मू कश्मीर से लेकर हिमाचल प्रदेश के तक में तबाही का मंजर देखने को मिला।

भारी बारिश का बरसा कहर, जम्मू कश्मीर से लेकर हिमाचल प्रदेश तक मची तबाही

भारी बारिश के चलते जम्मू कश्मीर से लेकर हिमाचल प्रदेश के तक में तबाही का मंजर देखने को मिला। जम्मू कश्मीर में बदल फटने से किश्तवाड़ जिले में बुधवार तड़के बादल फटने से 40 से अधिक लोग लापता हो गए हैं। तत्काल लोगों को ढूंढने का अभियान चलाया गया जहां कई लोगों को ढूंढ लिए गया है। हालाकिं अभी भी कुछ लोग लापता है जिन्हे ढूंढने का अभियान जारी है। 

दूसरी तरफ हिमाचल प्रदेश की बात की जाएं तो किन्नौर जिले में बह भारी बारिश ने तबाही मचा रखी है। वही जिले में कई जगह भूस्खलन होने से सड़क बंद हो गई है। किन्नौर में बदल फटने से ग्रामीणजन को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है साथ ही मंडी और कुल्लू का सम्पर्क भी टूट गया है। किन्नौर में घूमने आए 166 पर्यटकों को बचाव कार्यकर्ताओं ने निकला। 

वहीं चंबा जिले में भरमौर-पठानकोट एनएच समेत 23 संपर्क मार्ग बंद हो गए हैं। मूसलाधार बारिश अब कहर बरपा रही है। बंद पड़े मार्गों को बहाल करने में एनएच और लोनिवि की टीमें जुटी हैं। पुरुवाला-सालवाला चौक पर बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं।  मकान और दुकानें ढहने का खतरा बढ़ गया है। मनाली और लेह मार्ग का रास्ता तकरीबन 12 घंटे के लिए बंद कर दिया गया है। 

लाहौल स्पीति में उदयपुर में दो शख्स की मौत हुई है, जबकि 7 लोग लापता हैं। अब तक दो शव मिले हैं। सूबे में 4 नेशनल हाईवे बंद हैं। लेह मनाली-हाईवे के अलावा, चंबा-पठोनकोट हाईवे बंद हुआ है। यहां चनेड़ में फ्लैश फ्लड के चलते जेसीबी का हेल्पर लापता है।