चारधाम यात्रा पर आज होगी उच्च न्यायालय में सुनवाई तय होगी यात्रा की तारीख

स्थगित हो चुकी चारधाम यात्रा पर मंगलवार आज उच्च न्यायालय में सुनवाई के बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा

चारधाम यात्रा पर आज होगी उच्च न्यायालय में सुनवाई तय होगी यात्रा की तारीख

स्थगित हो चुकी चारधाम यात्रा पर मंगलवार आज उच्च न्यायालय में सुनवाई के बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा। इससे पहले न्यायालय ने कोरोना नियमों की लापरवाही को देखते हुए चारधाम रोकने का फैसला लिया था। वहीं सरकार ने चमोली, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी के स्थानीय लोगों के लिए अपने-अपने जिलों में स्थित बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री व यमुनोत्री धाम के सशर्त दर्शन की अनुमति दे दी थी। सभी यात्रियों के लिए आरटीपीसीआर निगेटिव टेस्ट रिपोर्ट अनिवार्य की गई थी। 


हालाकिं कोविड कर्फ्यू पर निर्णय लेने वाली कमेटी ने इस संबंध में पर्यटन विभाग को अपने स्तर पर मानक प्रचालन प्रक्रिया जारी करने को कह दिया था। लेकिन सचिव पर्यटन ने जब यह बताया कि 16 जून को अदालत में सुनवाई है। सरकार ने निर्णय रोक दिया। शासकीय प्रवक्ता सुबोध उनियाल ने कहा कि न्यायालय में मामला विचाराधीन होने के कारण चारधाम यात्रा पर फैसला रोका गया है। उनियाल के मुताबिक, 16 जून के बाद चारधाम यात्रा के भावी स्वरूप तय होगा।

बद्रीनाथ विधानसभा के विधायक और देवस्थानम बोर्ड के सदस्य महेंद्र भट्ट ने बताया है की की नई गाइडलाइन के साथ जल्द चारधाम की यात्रा शुरू की जाएगी। उन्होंने बताया है की चारधाम यात्रा रूटों के व्यापारियों को सबसे अधिक नुकसान हुआ है। उन्हें कुछ राहत देने के लिए मुख्यमंत्री से बात की है। कुछ शर्तों के साथ यात्रा को जल्दी खोल दिया जाएगा।