कांग्रेस में शामिल हुए हरक सिंह रावत व उनकी बहु अनुकृति

छह साल के लिए भाजपा से निष्कासित पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत अपनी बहू अनुकृति के साथ कांग्रेस में शामिल हो गए हैं

कांग्रेस में शामिल हुए हरक सिंह रावत व उनकी बहु अनुकृति

छह साल के लिए भाजपा से निष्कासित पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत अपनी बहू अनुकृति के साथ कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में उन्हें भाजपा से निष्कासित कर दिया गया था। हरक को पिछले रविवार को भाजपा से निष्कासित कर दिया गया था। लेकिन अब हरक सिंह रावत एक बार फिर कांग्रेस में लौट आए हैं। गौरतलब है कि रविवार को भाजपा ने हरक सिंह रावत को उनके विद्रोही रवैये के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया था। 


रावत को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कैबिनेट से बर्खास्त कर दिया था। इससे पहले हरक सिंह रावत बीजेपी की उत्तराखंड इकाई की कोर ग्रुप बैठक में शामिल नहीं हुए थे। वहीं हरक सिंह रावत बीजेपी से निकाले जाने के बाद काफी भावुक हो गए थे। उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी ने उन्हें धोखा दिया है। हरक सिंह ने यह भी कहा कि चुनाव के नतीजे 10 मार्च को आएंगे। जिसमें बीजेपी सत्ता से बाहर हो जाएगी और कांग्रेस 40 सीटों के साथ सरकार बनाएगी। 

हरक सिंह रावत के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से निष्कासन पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा था की भाजपा में परिवारवाद और व्यक्तिगत महत्वाकांक्षाओं की कोई गुंजाइश नहीं है। हरक रावत विकास की बात करते हुए भाजपा में आए और हमने उनका समर्थन किया। हालांकि, वह हम पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहे थे और अपने परिवार का प्रचार करते थे।