दो माह बाद खुले जिम कोरोना नियमों का कर रहे है पालन

कोरोना से राहत मिलते है मंगलवार को खुले लगभग 40 जिम दो माह बाद दिखी रौनके

दो माह बाद खुले जिम कोरोना नियमों का कर रहे है पालन

पिछले दो माह से बंद पड़े जिम में आज रौनके दिखाई दी वहीं प्रदेश सरकार की तरफ से छूट मिलते ही कम से कम मंगलवार आज 40 जिम खुल गए। सभी जगह 50 प्रतिशत क्षमता और मास्क की अनिवार्यता रखी गई है। पहले दिन सभी जगह उपस्थिति कम नजर आई है। बीते सोमवार को जिम व कोचिंग सेंटर को 50 प्रतिशत ही खोलने की अनुमति दी थी। हालाकिं जिम में ज्यादा भीड़ नजर नहीं आई साथ ही जिम के अंदर मास्क को अनिवार्य किया गया है।


रेलवे रोड स्थित आक्सीजन जिम के संचालक और ट्रेनर अंकित जोशी ने बताया कि सरकार की ओर से पर्यटन और परिवहन व्यवसायियों के लिए आर्थिक सहायता की घोषणा की गई है, लेकिन जिम संचालन के जरिए स्वरोजगार से जुड़े जिम संचालकों के लिए भी सरकार को आर्थिक पैकेज देने की व्यवस्था करनी चाहिए। बाडी बिल्डिंग एसोसिएशन के अध्यक्ष शैलेंद्र बिष्ट ने बताया कि इस संबंध में एसोसिएशन का प्रतिनिधिमंडल जल्द मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत और शासकीय प्रवक्ता व कृषि मंत्री सुबोध उनियाल से मिलेगा।


ऋषिकेश, मुनिकीरेती, तपोवन, श्यामपुर ग्रामीण क्षेत्र में करीब 40 जिम चलते है बाकि के इनमें 90 प्रतिशत जिम ऐसे हैं, जो किराए पर चलाएं जा रहे है। दो माह जिम बंद रखने के बावजूद सभी को किराए का भुगतान करना पड़ा है। इसी के साथ जिम संचालकों ने कोरोना नियम के तहत अपने जिम के कोरोना सम्बंधित नोटिस बाहर चस्पा की है जिसमे साफ़ तौर पर लिखा है की बिना मास्क के जिम में अनुमति नहीं है। वहीं ट्रेनर्स ने जिम में आने वालों को पहले सेनेटाइज़ किया उनका थर्मल स्कैनिंग की उसके बाद अंदर आने दिया साथ ही जिम में लगी सभी मशीनों को सेनेटाइज़ किया।