देहरादून वासियो के लिए खुशखबरी, आ रही है मेट्रो नियो 

उत्तराखंड मेट्रो रेल कारपोरेशन लिमिटेड ( यूकेएमआरसी ) की ओर से देहरादून में मेट्रो नियो शुरू किये जाने की योजना है.

देहरादून वासियो के लिए खुशखबरी, आ रही है मेट्रो नियो 
ट्रैफिक की समस्या देहरादून वासियो के लिए अब आम बात हो चली है। रोजाना घंटो  जाम में फसे रहने से राजधानी की जनता परेशान हो चुकी है पर राहत की बात यह है की जल्द ही राजधानी को इससे निजात मिलने वाला है। उत्तराखंड मेट्रो रेल कारपोरेशन लिमिटेड ( यूकेएमआरसी ) की ओर से देहरादून में मेट्रो नियो शुरू किये जाने की योजना है। सबसे पहले शहर में दो रूटों पर मेट्रो नियो का संचालन किया जाएग। 2026 तक आईएसबीटी से गांधी पार्क के बीच मेट्रो नियो शुरू की जाएगी। यूकेएमआरसी ने इसका प्रस्ताव तैयार किया था, जिस पर राज्य सरकार से मुहर लगने के बाद अब इसे केंद्र को भेज दिया गया है। यह करीब 1600 करोड़ का प्रोजेक्ट है।


यूकेएमआरसी के अनुसार 2026 तक आईएसबीटी से गांधी पार्क के बीच रोजाना 88 हजार 215 लोग सफर करेंगे। 2041 तक इनकी संख्या एक लाख 20 हजार 337 प्रतिदिन और 2051 तक एक लाख 47 हजार 302 प्रतिदिन पहुंच जाएगी।


वही 2026 तक एफआरआई से रायपुर के बीच का रूट भी तैयार हो जायेगा जिसमें शुरुवात में 92 हजार 679 यात्री और साल 2051 तक एक लाख 48 हजार 190 यात्री रोजाना सफर करेंगे। मेट्रो नियो 70 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से देहरादून की सड़को पर सरपट दौड़ेगी। 

क्या है मेट्रो नियो ?


मेट्रो नियो सिस्टम एक रेल गाइडेड सिस्टम है, जिसमें रबड़ के टायर वाली रेलगाड़ी पे इलेक्ट्रिक कोच होते है . इसके कोच स्टील या एल्युमिनियम के बने होते है . इसमें इतना  पावर बैकअप होता है की बिजली जाने पर भी यह ट्रेन 20 किलोमीटर तक चल सकती है।  सामान्य सड़क के किनारों पर फेंसिंग करके या दीवार बनाकर इसका ट्रैक तैयार किया जाता है। इसमें ऑटोमैटिक ट्रेन प्रोटेक्शन सिस्टम होता है जिससे इसकी स्पीड लिमिट भी नियंत्रण में रहती है। देहरादून में इसका टिकट का सिस्टम क्यूआर कोड या सामान्य मोबिलिटी कार्ड से होगा. इसके ट्रैक की चौड़ाई आठ मीटर होगी। यह जहां रुकेगी, वहां 1.1 मीटर का साइड प्लेटफॉर्म होगा तो वही  आईसलैंड प्लेटफॉर्म की चौड़ाई चार मीटर होगी .

रूट और स्टेशन



देहरादून में सबसे पेहले जो दो रूट शुरू किये जायेंगे उनमें पहला रूट 8.5 किलोमीटर का आईएसबीटी से गांधी पार्क है जिसमें 10 स्टेशन होंगे। दूसरा रूट 13.9 किलोमीटर का एफआरआई से रायपुर है जिसमें 15 स्टेशन होंगे। 


स्टेशंस की बात करे तो आईएसबीटी से घंटाघर के बीच स्टेशन होंगे  : आईएसबीटी, सेवला कलां, आईटीआई, लालपुल, चमनपुरी, पथरीबाग, देहरादून रेलवे स्टेशन, देहरादून कचहरी, घंटाघर और गांधी पार्क।


एफआरआई से रायपुर के बीच स्टेशन होंगे : एफआरआई, बल्लूपुर चौक, आईएमए ब्लड बैंक, दून स्कूल, मल्होत्रा बाजार, घंटाघर, सीसीएमसी, आराघर चौक, नेहरू कालोनी, विधानसभा, अपर बद्रीश कालोनी, अपर नत्थनपुर, ऑर्डिनेंस फैक्ट्री, हाथीखाना चौक और रायपुर।


तो क्या आप है तैयार इस सुहाने सफर का हिस्सा बनने के लिए ?