वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बाद भी डॉक्टर हुई तीन बार कोरोना संक्रमित

कोरोना संक्रमण के मामले अब काफी हद तक थम चुके है वहीं कोरोना संक्रमण से जुड़ा एक अजीब मामला सामना आया है

वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बाद भी डॉक्टर हुई तीन बार कोरोना संक्रमित

कोरोना संक्रमण के मामले अब काफी हद तक थम चुके है वहीं कोरोना संक्रमण से जुड़ा एक अजीब मामला सामना आया है जहां एक महिला डॉक्टर को तीन बार कोरोना संक्रमण हुआ वो भी वैक्सीन की दोनों डोज़ लेने के बाद। मामला मुंबई के उपनगरीय इलाके मुलुंड में रहने वाली 26 साल की एक डॉक्टर कोविड-19 का तीन बार शिकार हो चुकी हैं। इतना ही नहीं वो दो बार तो वैक्सीन लेने के बाद संक्रमित हुई हैं। हालांकि, एक्सपर्ट्स इसके कई कारण बता रहे हैं। 


एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, डॉक्टर सृष्टि हलारी पहली बार 17 जून 2020 को पॉजिटिव आई थीं। सृष्टि बताती हैं कि बीएमसी के मुलुंड स्थित कोविड सेंटर में काम करने के दौरान वो कोविड का शिकार हो गई थीं। वहीं, कोरोना महामारी शुरू होने के बाद से दुनिया के कई हिस्सों में चिकित्सकों के दोबारा संक्रमित होने के कई मामले सामने आ चुके हैं। उन्होंने बताया कि एक सहकर्मी को कोविड-19 होने के चलते उन्हें भी कोरोना संक्रमण हुआ था। इसके बाद 29 मई और 11 जुलाई को भी RT-PCR रिपोर्ट पॉजिटिव आई। 


डॉक्टर हलारी की तीन पॉजिटिव रिपोर्ट्स को लेकर उनका इलाज कर रहे डॉक्टर मेहुल ठक्कर का कहना है, 'यह एक गलत RT-PCR रिपोर्ट या मई में हुए दूसरे संक्रमण का मामला हो सकता है, जो जुलाई में दोबारा एक्टिव हो गया है। 'डॉक्टर हलारी बताती हैं कि तीनों बार कोरोना का शिकार होने के बाद बहुत हल्के लक्षण नजर आए थे। फाउंडेशन फॉर मेडिकल रिसर्च की डायरेक्टर डॉक्टर नरगिस मिस्त्री ने कहा कि दोबारा कोविड संक्रमण होने के कई कारण हो सकते हैं। उन्होंने कहा, 'इसका एक कारण SARS-CoV-2 वायरस का नया वेरिएंट भी हो सकता है।