देहरादून का रेलवे स्टेशन बनेगा अब दिव्यांग फ्रेंडली स्टेशन

देहरादून रेलवे स्टेशन पर दिव्यांकजनों को कोई परेशानी ना हो इसके लिए उत्तराखंड रेलवे अब रेलवे स्टेशन को दिव्यांग फ्रेंडली की दिशा की ओर बनाने के लिए अब प्रयास करने जा रहा है

देहरादून का रेलवे स्टेशन बनेगा अब दिव्यांग फ्रेंडली स्टेशन

देहरादून रेलवे स्टेशन पर दिव्यांकजनों को कोई परेशानी ना हो इसके लिए उत्तराखंड रेलवे अब रेलवे स्टेशन को दिव्यांग फ्रेंडली की दिशा की ओर बनाने के लिए अब प्रयास करने जा रहा है. वाही इस योजना पर जल्द से जल्द काम किया जा सके इसके लिए राष्ट्रीय दृष्टि दिव्यांगजन सशक्तिकरण संस्थान अपने विशेषज्ञों की टीम के साथ रिपोर्ट तैयार कर रही है .दिव्यांगों की महत्वाकांक्षी योजना के क्रियान्वयन के लिए मंडल रेल प्रबंधक (डीआरएम) अजय नंदन की अगुवाई में अधिकारियों की टीम ने एनआईईपीवीडी निदेशक डॉ. हिमांशु दास के साथ बैठक इस योजना के तेहत कई तमाम विषयों पर चर्चा की गई.

 

तीन चरणों के कार्य में करना होगा फोकस

बैठक के दौरान सहमति बनी कि संस्थान के विशेषज्ञों की समिति दिव्यांगों के लिए यात्री सुविधाओं का तकनीकी अध्ययन कर अपनी विस्तृत रिपोर्ट सौंपेगी। जिसमें रेलवे स्टेशनों पर तीन चरणों में कराए जाने वाले विकास कार्यों पर फोकस करना होगा। पहले चरण में स्टेशनों पर वे कार्य कराए जाएंगे जिनकी तत्काल जरूरत है। बैठक के दौरान निदेशक डॉ. हिमांशु दास ने कहा कि फिलहाल दून रेलवे स्टेशन को दिव्यांगों के लिए मॉडल स्टेशन के तौर पर विकसित किया जाए।

 

दिव्यांकजनों मुहैया कराया जाए हर सुविधा

बैठक के दौरान डीआरएम अजय नंदन ने रेलवे की ओर से दिव्यांग यात्रियों के लिए संचालित तमाम योजनाओं की जानकारी दी। अगले चरण में ऋषिकेश से लेकर कर्णप्रयाग तक प्रस्तावित रेल परियोजना से जुड़े तमाम रेलवे स्टेशनों को दिव्यांग फ्रेंडली बनाया जाए। रेलवे दिव्यांग यात्रियों के लिए हर संभव सुविधा मुहैया कराने को लेकर संकल्पबद्ध है।