इन वजहों से लोग हो रहे Heart Attack के शिकार, आप भी बरते एहतियात

खानपान से जुड़ी गलत आदतें, नींद की कमी और जिम में कड़ी मेहनत, कम उम्र में ही हार्ट अटैक के प्रमुख कारणों में से एक हैं.

इन वजहों से लोग हो रहे Heart Attack के शिकार, आप भी बरते एहतियात
बीते कुछ समय में हार्ट अटैक के कारण कम उम्र के लोगों की मौत की खबरे काफी आम हो गई है. आज से 15-20 साल पहले किसी बुजुर्ग की मौत होने पर पता चलता था कि हार्ट अटैक के कारण उनकी मौत हो गई है. लेकिन पिछले कुछ वर्षों में इसका बिलकुल उल्टा हो रहा है, अब अधिकतर कम उम्र के लोग ही हार्ट अटैक के शिकार हो रहे हैं. मशहूर टिकटॉक स्टार और भाजपा नेता सोनाली फोगाट की सिर्फ (42) बयालीस वर्ष की उम्र में ही हार्ट अटैक के कारण मौत हो गई. इससे पहले मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव को (58) अट्ठावन वर्ष की उम्र में हार्ट अटैक आया और वह अभी अस्पताल में जिंदगी की जंग लड़ रहे हैं. इससे पहले मशहूर सिंगर KK का भी एक लाइव कॉन्सर्ट के दौरान हार्ट अटैक होने से (53) तिरेपन साल की उम्र में निधन हो गया. और जैसा सभी जानते है की पिछले वर्ष मशहूर टीवी एक्टर, बिग बॉस फेम सिद्धार्थ शुक्ला का केवल 40 वर्ष की उम्र में ही हार्ट अटैक के कारण निधन हो गया था. कन्नड स्टार पुनीत राजकुमार की भी पिछले वर्ष सिर्फ (46) छियालीस वर्ष की उम्र में ही हार्ट अटैक के कारण मौत हो गई थी.

ऐसे में प्रश्न यह है कि इतनी कम उम्र में ही हार्ट अटैक के मामले पिछले कुछ वर्षों में आखिर क्यों बढ़ गए हैं. विशेषज्ञ इसके पीछे हमारी आधुनिक जीवनशैली को जिम्मेदार मानते हैं. खानपान से जुड़ी गलत आदतें, नींद की कमी और जिम में कड़ी मेहनत, कम उम्र में ही हार्ट अटैक के प्रमुख कारणों में से एक हैं. हालांकि, जानकारों के अनुसार पैंतालीस (45) वर्ष से कम आयु के लोगों में दिल के दौरे का खतरा कम होता है. कुछ साल पहले तक जहां 45 से कम उम्र के लोगों में हार्ट अटैक के कुछ ही मामले सुनने को मिलते थे अब हार्ट अटैक के 10 फीसद से ज्यादा मामले 45 से कम उम्र के लोगों में सामने आते हैं. 

ऐसे में आपको बताते है की कम उम्र में हार्ट अटैक के लक्षण क्या है 

हार्ट अटैक के लक्षण आमतौर पर हर उम्र में एक जैसे ही होते हैं, लेकिन कम उम्र के लोग इन लक्षणों को नजरअंदाज करते हैं. इसलिए इन लक्षणों को गंभीरता से लें और तुरंत डॉक्टर को दिखाएं. 

1 .छाती में जकड़न महसूस होना या दर्द होना
२. बाहों में दर्द होना
३. कोल्ड स्वेट की समस्या (गर्मी न लगने पर भी पसीना आना)
4. थकान और सुस्ती महसूस होना
5. सांस लेने में दिक्कत होना
6. पेट दर्द महसूस होना
7. मतली या अपच की समस्या होना
8. चक्कर आना

दिल का दौरा या हार्ट अटैक आने पर अलग-अलग लोगों को विभिन्न तरह के लक्षण महसूस हो सकते हैं. कई लोगों को छाती में हल्का दर्द महसूस होता है, जबकि कुछ लोगों को तेज दर्द की अनुभूति होती है. कुछ लोगों को अचानक दिल का दौरा पड़ता है, जबकि कुछ लोगों को घंटों तक लक्षण महसूस होते हैं. अगर ऐसा आपके साथ भी होता है तो आपको सतर्क रहने की जरूरत है. हालांकि, आपको यह भी समझना चाहिए कि छाती में दर्द या भारीपन सिर्फ हार्ट अटैक का ही लक्षण नहीं है. कई बार इसके पीछे कुछ अन्य कारण भी हो सकते हैं, लेकिन आपको हमेशा सचेत रहना चाहिए.

अब बात करते है कम उम्र में हार्ट अटैक के प्रमुख कारणों के बारे में 
यूँ तो हार्ट अटैक के कारण भी आमतौर पर एक जैसे ही होते हैं. फिर भी कुछ कारण गिनाए जा सकते हैं, जो कम उम्र में हार्ट अटैक की समस्या के लिए जिम्मेदार होते हैं. 

1. धूम्रपान की आदत
२. बहुत अधिक शराब पीना
३. हाई ब्लड प्रेशर की समस्या
4. हाई कोलेस्ट्रॉल
5. डायबिटीज से ग्रसित होना
6. रोजाना के खाने में जरूरी पोषक तत्वों की कमी
7. दिनचर्या में शारीरिक गतिविधियों की कमी होना
8. मोटापा, हद से ज्यादा वजन बढना भी इसका एक प्रमुख कारण हो सकता है 
9. लगातार नींद पूरी न होना और जिम में कठिन कार्डियो व्यायाम
10. कोकीन (cocaine) या गांजा का ज्यादा सेवन

तो यह थे कम उम्र में हार्ट अटैक आने के मुख्य कारण और लक्षण, अगर ऐसा आपके साथ भी होता है तो आपको सतर्क रहने की जरूरत है और तुरंत डॉक्टर से भी ज़रूर जाँच कराएं.