नशे में धुत कंडक्टर, बेटिकट यात्रा कर रहे थे सवारी, चेक पोस्ट पकड़ी गई तीन बसें

रोडवेज बस का सफर हो और टिकट भी ना लगे तो यह सोने पर सुहागा जैसा प्रतीत होता है। नशे में धुत कंडक्टर यात्रियों से टिकट लेना भूल गया

नशे में धुत कंडक्टर, बेटिकट यात्रा कर रहे थे सवारी, चेक पोस्ट पकड़ी गई तीन बसें

रोडवेज बस का सफर हो और टिकट भी ना लगे तो यह सोने पर सुहागा जैसा प्रतीत होता है। ऐसा ही मामला बीते तीन दिन से चलता आ रहा है की जहां शराब के नशे में धुत कंडक्टर ने यात्रियों से किराया ही लेना भूल गया कंडक्टर की इस हरकतों से पिछले तीन दिनों से परिवाहन निगम को नुकसान उठाना पड़ रहा है। 


बीते गुरूवार को एक साथ तीन बसें पकड़ी गई जो बेटिकट जा रही थी चेकिंग के दौरान जब पुलिस कर्मियों ने बस को रोका तो कंडक्टर नशे में धुत मिला। चेक पोस्ट पुलिस ने तत्काल कंडक्टर को पुलिस के हवाले कर दिया। पिछले कई दिनों से ऐसा होता हो आ रहा है की कुछ बसें बिना टिकट के पकड़ी गई है। 


शिकायत मिलने पर मंडल प्रबंधक संजय गुप्ता की ओर से बसों की चेकिंग में विशेष प्रवर्तन दल तैनात किए हुए हैं। गुरुवार सुबह प्रवर्तन टीम यातायात अधीक्षक अनिल शर्मा व निरीक्षक घनश्याम के साथ भानियावाला के समीप तैनात थी। बस रोके जाने पर पाया गया की बस में मात्र चौदह यात्री सवार थे वहीं बस देहरादून से चमोली जा रही थी। 

दूसरा मामला, सहायक यातायात निरीक्षक आनंद पाल और सुभाष कुमार ने कर्णप्रयाग में पकड़ा। यहां देवलकोट से पर्वतीय डिपो की बस देहरादून लौट रही थी। इस बस में पांच यात्री बेटिकट मिले। बस पर नियमित परिचालक संदीप तैनात था। तीसरा मामला धारूचला में पकड़ा गया, जिसमें गैरसैंण से देहरादून आ रही पर्वतीय डिपो की एक बस में एक यात्री बेटिकट मिला।