कर्मचारियों की कमी से जूझ रहा दून मेडिकल अस्पताल

प्रदेश के सबसे बड़े दून मेडिकल कालेज अस्पताल इनदिनों कर्मचारियों की कमी से जूझ रहा है। जिसका खामियाजा अस्ताल में आने वाले मरीजों को उठाना पड़ रहा है।

कर्मचारियों की कमी से जूझ रहा दून मेडिकल अस्पताल

प्रदेश के सबसे बड़े दून मेडिकल कालेज अस्पताल इनदिनों कर्मचारियों की कमी से जूझ रहा है। जिसका खामियाजा अस्ताल में आने वाले मरीजों को उठाना पड़ रहा है। दरअसल में covid 19 में प्रदेश भी में हजारों कर्मचारियों को सरकार ने लगाया था लेकिन कोविड़ के मामले कम होने के बाद से सरकार ने सभी कर्मचारियों अस्पमाल से बहार का रास्ता दिखा दिया था|


जिसे के बाद से कर्मचारी सरकार के खिलाफ धरने पर थे हालांकि धामी सरकार के आते ही सरकार ने सभी कर्मचारियों को 6 माह रखने का फैसला लिया है। लेकिन अब कर्मचारी सरकार से नियमितीकरण की मांग कर रही है। वही चिकित्सा शिक्षा विभाग के दिनेश ने कहा कि सभी कर्मचारियों को एक माह में ज्वाईनिंग करनी है।


हालंकि कुछ कर्मचारी ज्वाईनिंग भी कर चुके है। लेकिन कुछ कर्मचारी ज्वाइन नही कर रहे है। जिसे लेकिन निदेशक सयाना ने कहा कि जो उन्हें शासनादेश मिला है। उसी अनुरूप कर्मचारियों  को ज्वाईन करना होगा यदी काई एक माह में ज्वाईन नही करता तो उसके खिलाफ शासन को अवगत किया जाऐगा|