राजकीय सम्मान के साथ विदा हुए दिलीप साहब

दिलीप साहब की मौत से पूरा देश पूरा बॉलीवुड इंडस्ट्री सदमे में है शायरा बानों जी के आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे

राजकीय सम्मान के साथ विदा हुए दिलीप साहब

दिलीप साहब के इंतकाल से पूरा देश पूरा बॉलीवुड इंडस्ट्री सदमे में है। वही शायरा बानों जी के आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे है। उनके इंतकाल की खबर से दिलीप साहब के घर में तमाम एक्टर एक्ट्रेस पहुंचे। शायरा बानों दिलीप साहब के पार्थिव शरीर के पास रोती नजर आई जिन्हे शारुख खान सांत्वना देते दिखे। दिलीप साहब को राजकीय सम्मान के साथ उन्हें श्रद्धांजलि पूर्वक सन्ताक्रूज कब्रिस्तान में दफनाया गया। 

25 की उम्र में अपना मुकाम हासिल करने वाले व फिल्म जगत को शिखर तक पहुंचाने वाले दिलीप आज इस दुनिया में नहीं रहे। उन्होंने 1966 में अपने से 22 साल छोटी एक्ट्रेस सायरा से शादी की थी। दिलीप कुमार 90 के दौर तक फिल्मों में काम करते रहे उन्हें फिल्म 'शक्ति' के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार भी मिला था, जिसमें वे अमिताभ बच्चन के साथ नजर आए थे. आखिरी बार वे फिल्म 'किला' में नजर आए थे, जो 1998 में रिलीज हुई थी। 

दिलीप साहब के सुपर हिट गीत उड़े जब जब जुल्फे तेरी,यह देश है वीर जवानों का,मांग के साथ तुम्हारा,मेरे पैरों में घुँगुरु बंधा दे, तमाम उनके गीत आज देश भर में मशहूर है। लेकिन आज हमसब ने ऐसे सितारे को खोया जिसकी चमक जिसका कहानी रुतबा और शोहरत शब्दों में बयां नहीं हो सकती।