फर्जी ई-पास बनाकर केदारनाथ यात्रा पर आ रहे श्रद्धालु, 18 श्रद्धालुओं को पुलिस ने दबोचा

जहाँ चारधाम यात्रा का श्री गणेश हो चूका है वही रोजाना पांच हजार से अधिक श्रद्धालु चारधाम यात्रा का रुख कर रहे है।

फर्जी ई-पास बनाकर केदारनाथ यात्रा पर आ रहे श्रद्धालु, 18 श्रद्धालुओं को पुलिस ने दबोचा

जहाँ चारधाम यात्रा का श्री गणेश हो चूका है वही रोजाना पांच हजार से अधिक श्रद्धालु चारधाम यात्रा का रुख कर रहे है। वही विभिन्न राज्यों से लाखों भक्त दर्शन करने आ रहे है लेकिन यात्रा आरम्भ करने से राज्य सरकार ने अपने नियम जारी कर दिए थे लेकिन अब यात्रा के दौरान नियमों का पालन ठीक तरीके से नहीं हो रहा है हम बात कर रहे है ई-पास की जैसा की नियम अनुसार प्रत्येक श्रद्धालुओं को  ई-पास के द्वारा ही प्रवेश करने की अनुमति दी जाएगी। 

कुछ श्रद्धालु फर्जी तरीके से प्रवेश कर रहे है या यु कहे की फर्जी ई-पास बना कर प्रवेश तो कर ही रही है साथ पकड़े जाने पर आगे जाने की जिद्द कर रहे है। सोनप्रयाग पुलिस ने कई श्रद्धालुओं को फर्जी फर्जी ई-पास के साथ पकड़ा। कुल मिलकर 18 यात्रियों को पुलिस ने पकड़ा सोनप्रयाग में चैकिंग के दौरान पुलिस ने ऐसे 18 यात्रियों को सख्ती से पकड़ा और वापस लौटा दिया 

जब अधिकारीयों ने इसे गंभीरता से लेते हुए डाटा चेक किया तो सामने आया की आधे से ज्यादा श्रद्धालुओं के नाम डाटा में नहीं थे। सोनप्रयाग बैरियर के पास कुछ श्रद्धालु जिद्द करते हुए देखा गया जिनके पास फर्जी पास था।  जिन श्रद्धालुओं के पास ई-पास है उन्हें जाने की अनुमति दी जा रही है बाकि अन्य तिथि के अनुसार ही श्रद्धालु केदारनाथ की यात्रा कर रहे हैं, मगर कुछ श्रद्धालु ऐसे है जो नियमों को जानने के बाद नियमों का उल्लंघन कर रहे है जो ई-पास को फर्जी तरीके से बनाकर यात्रा पर आ रहे हैं। 


ऐसे ही 18 यात्रियों द्वारा गलत ई-पास दिखाने पर पुलिस ने इन सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर वापस भेज दिया गया। वही केदारनाथ में केवल आठ सौ श्रद्धालुओं को दर्शन करने की अनुमति है। उच्च अधिकारीयों को द्वारा निर्देश है की बैरियर के पास कड़ी नजर बनाएं रखे जो फर्जी तरीके से प्रवेश करने के इरादे से आ रहे है उन्हें प्रवेश ना करने दिया जाएं। जो नियम के अनुसार ई-पास लेकर आ रहे है उनका वेरफिकेशन करें।