गलत जानकारी देने पर नुसरत जहां के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग: संघमित्रा मौर्य

नुसरत के खिलाफ बीजेपी सांसद संघमित्रा मौर्य का आरोप की नुसरत ने अपनी शादी से सम्बंधित गलत जानकारियां दी थी

गलत जानकारी देने पर नुसरत जहां के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग: संघमित्रा मौर्य

पश्चिम बंगाल से तृणमूल कांग्रेस टीएमसी की सांसद नुसरत पिछले कई दिनों से अपनी अवैध शादी के चलते सुर्खियों में चल रही है। और इसी के साथ एक बार फिर नुसरत जहां की मुश्किलें बढ़ गई है। नुसरत के खिलाफ बीजेपी सांसद संघमित्रा मौर्य ने आरोप लगते हुए कहा है की नुसरत ने अपनी शादी से सम्बंधित गलत जानकारियां दी थी। संघमित्रा मौर्य ने लोकसभा स्पीकर ओम बिरला को हलफनामा देते हुए नुसरत के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है। पत्र में उन्होंने नुसरत जहां की लोकसभा सदस्यता रद्द करने की मांग की है। 


बता दे की तृणमूल कांग्रेस की सांसद नुसरत जहां के खिलाफ यह शिकायत बुधवार को उनके उस दावे के बाद आई है, जिसमें उन्‍होंने कहा था कि कारोबारी निखिल जैन के साथ उनकी शादी कानूनी नहीं बल्कि लिव-इन-रिलेशनशिप है क्योंकि तुर्की में हुई उनकी शादी को भारतीय कानून के अनुसार मान्यता नहीं मिली है। वही इस पर संघमित्रा मौर्य ने सांसद की गरिमा का कहना है नुसरत ने सांसद की गरिमा को धूमिल किया है ऐसे में इस मामले को संसद की एथिक्स कमेटी को भेजा जाना चाहिए, साथ ही जांच कर नुसरत जहां पर एक्शन लिया जाना चाहिए.'

नुसरत जहां ने अपने बयान में यह दावा भी किया था कि यह अंतरधार्मिक विवाह था, लिहाजा इसे भारत में विशेष विवाह अधिनियम के तहत मान्यता की जरूरत है, जो अभी नहीं मिली है। कानून के अनुसार यह विवाह नहीं बल्कि लिव-इन-रिलेशनशिप है। लोकसभा स्‍पीकर को लिखे पत्र में बीजेपी सांसद ने कहा है, 'नुसरत जहां की ओर से मीडिया को दी गई हालिया जानकारी से यह बात जाहिर होती है कि उन्‍होंने जानबूझकर लोकसभा सचिवालय को गलत जानकारी प्रदान की। 

यह जानबूझकर झूठी और भ्रामक जानकारी देकर अपने मतदाताओं को धोखा देने और संसद और उसके माननीय सांसदों की छवि खराब करने के समान है' पत्र में कहा गया है, 'नुसरत जहां का यह बयान प्रभावी रूप से उनकी लोकसभा सदस्यता को गैर-कानूनी रूप में प्रस्तुत करता है.' हालाकिं कि अभी तक नुसरत के खिलाफ कोई शिकायत नहीं की गई थी।