देहरादून पुलिस ने किया गुच्चूपानी में हुई हत्या का खुलासा, 05 अभियुक्तों को किया गिरफ्तार

अवैध सम्बन्धो के चलते पत्नी और उसके प्रेमी ने दी थी 2 लाख की सुपारी

देहरादून पुलिस ने किया गुच्चूपानी में हुई हत्या का खुलासा, 05 अभियुक्तों को किया गिरफ्तार

गुच्चूपानी पिकनिक स्पॉट की पार्किग के सामने नदी पार जंगल में एक व्यक्ति मृत अवस्था में पड़े होने की सूचना पर कैंट थाना पुलिस मौके पर पहुँची तो पाया कि मौके पर एक व्यक्ति का शव पडा है, जिसके सिर पर किसी भारी वस्तु से मारे गये चोट के निशान हैं। प्रथम दृष्टया उक्त व्यक्ति की मृत्यू संदिग्ध परिस्थितियों में होना पाया गया। मृतक के विषय में जानकारी करने पर मृतक की पहचान मोसिन पुत्र अजीज अहमद निवासी तेलपुर मेहूँवाला निकट राजकीय इण्टर कालेज थाना पटेलनगर देहरादून उम्र 30 वर्ष हुई, जो आई0एस0बी0टी0 रोड पर ई-रिक्शा चलाने का कार्य किया करता था। सूचना पर मृतक के परिजन भी मौके पर पहुंचे तथा मृतक के भाई तौकिर की तहरीर के आधार मुकदमा अज्ञात पंजीकृत कर जांच आरम्भ की गयी । 


मौके पर फील्ड यूनिट को बुलाकर सबूत जुटाए गए एवं वीडियों ग्राफी, फोटोग्राफी की गयी तथा शव का पंचायतनामा भर कर पोस्टमार्टम कराया गया । घटना की गम्भीरता को देखते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून ने घटना के खुलासे तथा अपराधियों की यथाशीघ्र गिरफ्तारी हेतु दिशा-निर्देश जारी किये गये। जिसके बाद पुलिस ने पुलिस अधीक्षक नगर देहरादून के मार्गदर्शन व क्षेत्राधिकारी कैण्ट के पर्यवेक्षण में घटना के खुलासे के लिए प्रभारी निरीक्षक कैण्ट के नेतृत्व में तीन टीमों का गठन किया गया साथ ही मुखबिर तंत्र को भी सक्रिय किया गया।


गठित टीमों ने घटनास्थल के आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेजों का गहनता से जांच, द्वितीय टीम द्वारा मृतक के मोबाइल फोन नम्बर का सर्विलांस के माध्यम से आवश्यक जानकारियां  तथा घटना के सम्बन्ध में मृतक के परिजनों एवं जान पहचान वाले लोगों से आवश्यक जानकारियां इकट्ठी कि। पुलिस टीम को  मृतक के मोबाइल नम्बर के काल डिटेल्स से घटना वाले दिन दिनांक: को एक संदिग्ध नम्बर से 05 बार काल आना प्रकाश में आया। उक्त संदिग्ध नम्बर की जानकारी करने पर संदिग्ध मोबाइल नम्बर अरशद पुत्र इकबाल निवासी नौ राजपुर गुज्जर थाना बागपत जिला बागपत उत्तर प्रदेश का होना पाया गया। पुलिस टीम द्वारा अरशद के मोबाइल नम्बर की लोकेशन के आधार पर अरशद को बल्लूपुर चौक सेे गिरफ्तार किया गया।  


अरशद ने बताया गया कि उसने साबिर अली व शीबा के अवैध सम्बन्ध के चलते रईस खान के कहने पर अपने दो अन्य साथियों शाहरूख व रवि के साथ मिलकर मोहसिन की गुच्चूपानी में पत्थर से मारकर हत्या की थी। जिसके लिए रईस खान द्वारा उन्हें 02 लाख रूपये की सुपारी दी थी, जिसके लिए रूपये 20 हज़ार एडवांस के तौर पर दिए गए थे, बकाया धनराशि को लेने आये तीनो अपराधियों को पुलिस ने बल्लूपुर चौक से गिरफ्तार कर लिया ।  


तीनों अभियुक्तों से पूछताछ करने पार उन्होंने बताया कि साबिर अली व शीबा पत्नी मृतक मोहसिन ने अपने अवैध सम्बन्धों के चलते साबिर के रिश्तेदार रईस खान से मोहसिन की हत्या करने के लिये सम्पर्क किया तथा साबिर अली व शीबा के कहने पर रईस खान ने अपने अन्य साथियों शाहरूख, अरशद व रवि को मृतक मोहसिन की हत्या के लिये 02 लाख रूपये की सुपारी दी थी। पुलिस ने गिरफ्तार अभियुक्तों के बयान के आधार पर अभियुक्त साबिर अली व शीबा को मेहुवाला स्थित आवास से गिरफ्तार कि गया। पांचो अभियुक्तों से सख्ती से पूछताछ करने पर उनके द्वारा घटना को कारित किया जाना स्वीकार किया गया, पुलिस ने घटना में इस्तेमाल किया गया पत्थर और अभियुक्तों से रूपये बीस हज़ार बरामद किये गए । घटना में सलिंप्त रईस खान घटना के पश्चात से ही फरार चल रहा है। जिसकी गिरफ्तारी हेतु लगातार प्रयास जारी हैं।