Ankita Murder Case-: चिल्ला नहर से बरामद हुआ बेटी अंकिता का शव, भाई और पिता ने की शव की पहचान

शनिवार को एक ट्वीट जारी कर मुख्यमंत्री धामी ने कहा “आज सुबह बेटी अंकिता का शव बरामद किया गया।

Ankita Murder Case-: चिल्ला नहर से बरामद हुआ बेटी अंकिता का शव, भाई और पिता ने की शव की पहचान

पहाड़ की बेटी अंकिता भंडारी की हत्या के मामले में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने घोषणा की, कि 19 वर्षीय अंकिता भंडारी की हत्या के आरोप में भाजपा के एक पूर्व मंत्री के बेटे और तीन अन्य को गिरफ्तार किए जाने के एक दिन बाद, पीड़िता का शव बरामद कर लिया गया है।उन्होंने कहा कि मामले की जांच के लिए एक विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन भी किया गया है।

 

शनिवार को एक ट्वीट जारी कर मुख्यमंत्री धामी ने कहा “आज सुबह बेटी अंकिता का शव बरामद किया गया।इस दिल तोड़ने वाली घटना से मेरा दिल बहुत दुखी है,। दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा सुनिश्चित करने के लिए पुलिस उप महानिरीक्षक पी. रेणुका देवी जी के नेतृत्व में एक एसआईटी का गठन किया गया है और इस गंभीर मामले की गहन जांच के आदेश दिए हैं।”पुलिस अधिकारियों ने बताया कि अंकिता का शव ऋषिकेश में चिल्ला नहर से बरामद किया गया था। मृतक के भाई और पिता यहां थे और उन्होंने शव की पहचान की।

 

शुक्रवार को पूर्व भाजपा मंत्री विनोद आर्य के बेटे पुलकित आर्य और तीन अन्य को लक्ष्मण झूला इलाके के एक रिसॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट के रूप में काम करने वाली अंकिता की हत्या के आरोप में राज्य की पुलिस ने गिरफ्तार किया था। पुलिस ने कहा कि आर्य, जो वनंतरा रिज़ॉर्ट का मालिक है, जहाँ अंकिता काम करती थी, को मामले में "मुख्य आरोपी" के रूप में नामित किया गया है।उत्तराखंड सरकार ने शनिवार को कथित तौर पर अवैध रूप से बनाए गए रिसॉर्ट को ध्वस्त कर दिया।पुलिस ने कहा कि पुलकित पर वनंतरा रिज़ॉर्ट के प्रबंधक सहित दो अन्य लोगों के साथ हत्या के आरोप में मामला दर्ज किया गया था, जब उन्होंने महिला को नहर में धकेलने की बात कबूल की थी ।

 

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के विशेष प्रधान सचिव अभिनव कुमार ने शुक्रवार को कहा कि पुलकित आर्य के स्वामित्व वाले रिसॉर्ट को गिराने का काम चल रहा है। उन्होंने कहा कि सीएम पुष्कर सिंह धामी के आदेश पर संबंधित रिसॉर्ट को तोड़ा जा रहा है. गौरतलब है कि उत्तराखंड के पूर्व मंत्री और बीजेपी नेता विनोद आर्य के बेटे पुलकित आर्य के खिलाफ कार्रवाई से सीएम धामी ने साफ संदेश दिया है कि किसी भी आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा.