दलित ने लगया भजपा पार्षद पर जमीन का कब्जाने का आरोप

इस भूमि पर पीड़ित दलित विनोद कुमार का आरोप है कि कुछ राजनीतिक लोग और दबंगों की नजर उनकी जमीन पर है

दलित ने लगया भजपा पार्षद पर जमीन का कब्जाने का आरोप

धर्मपुर डाण्डा बद्रीश कालोनी में जमीन का मामला सामना आया है। इस भूमि पर पीड़ित दलित विनोद कुमार का आरोप है कि कुछ राजनीतिक लोग और दबंगों की नजर उनकी जमीन पर है। उनका आरोप है भाजपा पार्षद कमली भट्ट व उनके साथियों ने दलित की भूमि कब्जाने की कोशिश की है। सिर्फ इतना ही नहीं नेता दबंगों ने धारा 144 और कोविड नियमों की परवाह भी नहीं की। उनके अनुसार नगर निगम और पुलिस बल को माध्यम बनाकर दबंगों ने मंगलवार को उनकी जमीन को कब्जाने की कोशिश की। शहर के एक रेस्तरां में आयोजित प्रेसवार्ता में पीड़ित विनोद कुमार ने कहा कि उनकी भूमि का मामला अदालत में लंबित है। 


नेता के इशारे पर दलित का नुकसान 

विनोद का आरोप है कि मंगलवार को बड़ी संख्या में भाजपा पार्षद कमली भट्ट अपने अन्य साथियों के साथ, नगर निगम की टीम और नेहरू कालोनी पुलिस थानाध्यक्ष प्रदीप चौहान पहुंचे और उनकी भूमि की दीवार और भवन को नुकसान पहुंचाया। वही सूचना मिलने पर उनके वकील विकेश सिंह नेगी ने भूमि संबंधी दस्तावेज लेकर मौके पर पहुुंचे। जमीन के दस्तावेज दिखाने के बाद एक बार फिर नगर निगम की टीम और पुलिस बल मौके से बैरंग लौट गया। विनोद का आरोप है कि यह कार्रवाई क्षे़त्रीय पार्षद कमली भट्ट के इशारे पर की गई। 

नियमों की उड़ी धज्जिया

जैसा की आदर्श अचार सहिंता के तहत किसी भी विधानसभा क्षेत्र में पांच से ज्यादा लोगों के इखट्टा होने की अनुमति नहीं है बावजूद इसके भाजपा नेता इन नियमों की धज्जिया उड़ा रहे है। विनोद के मुताबिक भाजपा नेता पहले भी इस भूमि पर कब्जा करने की कोशिश कर चुकी है और इसमें कामयाब नहीं हुई। पार्षद होने के कारण वह राजनीतिक दबाव बना कर नगर निगम की टीम को कब्जा करने के लिए भेज देती है। इस दौरान पार्षद के सहयोगी और दबंग मौके पर मौजूद रहते हैं और वहां रह रहे लोगों को धमकाने का काम करते हैं साथ ही निगम कर्मियों और पुलिस पर भी अनावश्यक दबाव बनाते हैं।