कांग्रेस विधायक गोविंद सिंह कुंजवाल का दावा, छह कांग्रेस नेता घरवापसी की तैयारी में है

उत्तराखंड कांग्रेस विधायक गोविंद सिंह कुंजवाल ने दावा किया है कि पहले कांग्रेस छोड़ चुके कई नेता अब पार्टी में वापस आने को तैयार हैं

कांग्रेस विधायक गोविंद सिंह कुंजवाल का दावा, छह कांग्रेस नेता घरवापसी की तैयारी में है

उत्तराखंड कांग्रेस विधायक गोविंद सिंह कुंजवाल ने दावा किया है कि पहले कांग्रेस छोड़ चुके कई नेता अब पार्टी में वापस आने को तैयार हैं और कहा कि छह विधायक पार्टी के संपर्क में हैं। उत्तराखंड के अल्मोड़ा में रविवार को एक कार्यक्रम में मीडियाकर्मियों से बात करते हुए, कुंजवाल ने कहा, "कई लोग कांग्रेस का हिस्सा बनने के इच्छुक हैं और कई लोग पार्टी में वापस आएंगे। केंद्रीय नेतृत्व इस पर निर्णय लेगा। छह विधायक पार्टी के संपर्क में हैं। यह अगले साल होने वाले उत्तराखंड विधानसभा चुनाव से पहले आया है। 


हरक सिंह और काऊ ने की नड्डा से मुलाकात 

दलबदल को लेकर आशंकित भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व इस बात से वाकिफ है कि कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत अहम कड़ी हैं. पार्टी को जानकारी है कि घर वापसी को लेकर हरक कांग्रेस नेतृत्व से बातचीत कर सकते हैं। कैबिनेट मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत और विधायक उमेश शर्मा काऊ ने शनिवार को नई दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की। इससे पहले दोनों नेताओं ने पार्टी के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी और राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी से मुलाकात की. बलूनी की उपस्थिति में ही हरक और कौ नड्डा से मिले।

काऊ को मंत्री बनाने की अटकलें

हरक को प्रदेश भाजपा में बड़ी जिम्मेदारी देने और काऊ को मंत्री बनाए जाने की अटकलें दिन भर गरमाती रही। हालांकि भाजपा संगठन से जुड़े सूत्रों ने ऐसी किसी भी संभावना से साफ इंकार किया। सुबह एक कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी मंत्रिमंडल में खाली पद को भरने के सवाल को टाल गए। प्रदेश भाजपा में हरक को बड़ी जिम्मेदारी देने और काऊ को मंत्री बनाने की अटकलें दिन भर गर्माती रहीं। हालांकि भाजपा संगठन से जुड़े सूत्रों ने ऐसी किसी संभावना से साफ इंकार किया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सुबह एक कार्यक्रम के दौरान कैबिनेट में रिक्त पद भरने के सवाल को भी टाल दिया। 


काऊ ने रोया दुखड़ा 

सूत्रों के मुताबिक पार्टी विधायक उमेश शर्मा काऊ नड्डा के सामने अपनी विधानसभा में राजनीतिक हालात को लेकर रोए। उन्होंने नड्डा से शिकायत की कि पार्टी के कुछ नेता और कार्यकर्ता उनके खिलाफ काम कर रहे हैं। नड्डा ने उन्हें आश्वस्त किया और उन्हें चुनाव की तैयारी शुरू करने की सलाह दी।