सीएम केजरीवाल ने पीड़िता के परिजनों को दी दस लाख की वित्तीय सहायता की मंजूरी

दिल्ली छावनी में नौ साल की बच्ची के साथ हुए बलात्कार व हत्या के बाद केजरीवाल ने दिए वित्तीय सहायता में दस लाख की मंजूरी

सीएम केजरीवाल ने पीड़िता के परिजनों को दी दस लाख की वित्तीय सहायता की मंजूरी

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली छावनी में नौ साल की बच्ची के साथ हुए बलात्कार व हत्या के बाद केजरीवाल ने पीड़िता के माता पिता को आर्थिक मदद के रूप में दस लाख की मंजूरी दी है। बता दे बीते दो अगस्त को नाबालिग के साथ नांगल गांव के शमशान के पुजारी ने अपने अन्य साथियों के साथ बलात्कार व हत्या को अंजाम दिया था। 

वही इस घटना के बाद केजरीवाल पीड़िता के परिजनों से मुलाकात करने पहुंचे थे जिसके बाद सूत्रों के हवाले से पता चला था की केजरीवाल ने पीड़िता के माता पिता को वित्तीय सहायता देंगे साथ मामले की मजिस्ट्रियल जांच होगी। सिर्फ इतना ही नहीं केजरीवाल ने उच्च वकीलों लगाया जाए। केजरीवाल ने कहा था नाबालिग पुरे देश की बेटी है और बच्ची के साथ इन्साफ जरूर होगा। 


इस घटना को प्रकाश में तब लाया गया जब पीड़िता के परिजन समेत पड़ोसियों के साथ पंखा रोड पर प्रदर्शन किया जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने श्मशान के एक पुजारी सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों पर 
बलात्कार, हत्या और धमकी के आरोप, यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (POCSO) अधिनियम और एससी / एसटी से संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। दोषियों के खिलाफ न्याय की मांग मौत की सजा मांगी है। 


नौ साल की बच्ची से कथित बलात्कार और हत्या के चार आरोपियों को सोमवार को दिल्ली पुलिस की तीन दिन की हिरासत में भेज दिया गया था। 1 अगस्त को संदिग्ध परिस्थितियों में लड़की की मौत हो गई, यहां तक ​​​​कि उसके माता-पिता ने आरोप लगाया कि दक्षिण-पश्चिम दिल्ली के ओल्ड नंगल गांव में एक श्मशान पुजारी द्वारा उसके साथ बलात्कार किया गया और उसका जबरन अंतिम संस्कार किया गया। गिरफ्तार लोगों की पहचान राधेश्याम (55), सलीम (55), लक्ष्मी नारायण (49) और कुलदीप (63) के रूप में हुई है।