सोशल मीडिया पर ट्रोल हो रहे है पीएम, नरेंद्र मोदी स्टेडियम का नाम भी बदला जाए

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की कि राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार - भारत में सर्वोच्च खेल सम्मान - का नाम बदलकर हॉकी के दिग्गज ध्यानचंद के नाम पर रखा गया है,

सोशल मीडिया पर ट्रोल हो रहे है पीएम, नरेंद्र मोदी स्टेडियम का नाम भी बदला जाए

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की कि राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार - भारत में सर्वोच्च खेल सम्मान - का नाम बदलकर हॉकी के दिग्गज ध्यानचंद के नाम पर रखा गया है, सोशल मीडिया उपयोगकर्ताओं ने इस कदम का स्वागत करते हुए कहा कि खेल पुरस्कारों का नाम खिलाड़ियों के नाम पर रखा जाना चाहिए, राजनेताओं के नाम पर नहीं। हालाँकि सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री के नाम पर एक क्रिकेट स्टेडियम की ओर इशारा किया है। 

विपक्षी नेताओं सहित कई उपयोगकर्ताओं ने अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम का नाम बदलकर एक खिलाड़ी के नाम पर रखने की मांग की। फरवरी 2020 में अहमदाबाद में सरदार पटेल स्टेडियम, जिसे मोटेरा स्टेडियम के नाम से जाना जाता है, का नाम बदलकर पीएम मोदी के नाम पर रखा गया, जो गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष थे। यह दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम है। खेल पुरस्कार का नाम बदलने का स्वागत करते हुए, क्रिकेटर इरफान पठान ने कहा, "उम्मीद है कि भविष्य में स्पोर्ट्स स्टेडियम के नाम खिलाड़ियों के नाम पर भी होंगे।"


YouTuber ध्रुव राठी ने सोशल मीडिया पर कहा,"राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार का नाम बदलकर मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार करने का मोदी सरकार का बड़ा फैसला किया है । अब मुझे उम्मीद है कि वे नरेंद्र मोदी स्टेडियम और जेटली स्टेडियम का भी नाम बदल सकते हैं। सभी राजनेताओं के नाम हटा दें। 

हालाकिं नरेंद्र मोदी स्टेडियम का नाम बदलने के लिए सोशल मीडिया पर अपनी आवाज उठाने वालों की कतार बहुत लम्बी है, एक अन्य यूज़र ने कहा की,"की मैं पीएम से निवदेन करना चाहता हूँ की नरेंद्र मोदी स्टेडियम का नाम बदल कर कपिल देव या सचिन तेंदुलकर के नाम पर रखा जाएं।