सातवीं क्लास के हिंदी चैप्टर में पढ़ाएं जाएंगे कैप्टन कूल की दास्तां

जहां अभी तक भारतीय क्रिकेटर व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर बायोपिक बन चुकी है वहीं इस बार कैप्टन कूल सातवीं क्लास की हिंदी बुक का हिस्सा बनने जा रहे है।

सातवीं क्लास के हिंदी चैप्टर में पढ़ाएं जाएंगे कैप्टन कूल की दास्तां

जहां अभी तक भारतीय क्रिकेटर व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर बायोपिक बन चुकी है वहीं इस बार कैप्टन कूल सातवीं क्लास की हिंदी बुक का हिस्सा बनने जा रहे है। इतिहास में महेंद्र सिंह धोनी को भारतीय क्रिकेट में सबसे बेहतरीन और सफल  क्रिकेटर माना जाता है।


2007 में टी-20 विश्व कप, 2011 में 50 ओवर विश्व कप और 2013 में अपने नेतृत्व में चैंपियंस ट्रॉफी जिताई तो टेस्ट टीम को नंबर एक रैंकिंग तक भी पहुंचाया। इस छोटे से शहर के लड़के ने न सिर्फ बड़े सपने देखे बल्कि उन्हें पूरा भी किया। माही का जीवन किसी प्रेरणा से कम नहीं है। वह करोड़ों लोगों के आदर्श भी हैं। शायद यही वजह है कि अब स्कूली पाठ्यक्रम में उनका जीवन बतौर चैप्टर पढ़ाया जा रहा है।

माही के ऊपर छप चुकें इस चैप्टर की फोटो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है पाठ्यपुस्तक के अध्याय सात में माही की जीवनी के बारें में बताया जा रहा है। निश्चित तौर पर छोटे बच्चे जो जीवन में सफल होना चाहते है आगे बढ़ना चाहते हैं उन्हें रांची गलियों से निकलने वाले इस और कैप्टन कूल के नाम से मशहूर होने वाले धोनी की कहानी बालमन को मोहित व प्रेरित करेगी