2027 तक प्रदेश उत्तराखंड को लाना है प्रथम स्थान पर, जनता का सहयोग अनिवार्य

2027 तक प्रदेश को शिक्षा, स्वास्थ,पर्यटन,कृषि , उद्योग , सहित सभी क्षेत्रों को पुरे देश में प्रथम स्थान पर लाना है

2027 तक प्रदेश उत्तराखंड को लाना है प्रथम स्थान पर, जनता का सहयोग अनिवार्य

उत्तराखंड की कमान थामकर अपनी दायित्वों को निभाते आ रहे है पुष्कर सिंह धामी ने बीते रविवार को उत्तराखंड के विकास को लेकर चर्चा की उन्होंने कहा 2027 तक प्रदेश को शिक्षा, स्वास्थ,पर्यटन,कृषि , उद्योग , सहित सभी क्षेत्रों को पुरे देश में प्रथम स्थान पर लाना है और प्रथम स्थान पर उत्तराखंड को देखने के लिए जनता का सहयोग अनिवार्य है। वहीं उधमसिंह नगर में अपने तीन दिवसीय दौरे के दौरान उन्होंने ओलम्पिक खिलाड़ियों का साइकिल रैली कर हौंसला बढ़ाया था साथ ही उन्हें ओलम्पिक में गए भारतीय खिलाड़ियों को शुभकामनाएं भी दी थी। 

अपने विधानसभा क्षेत्र खटीमा में एक कार्यक्रम में आम जनता से संवाद करते हुए सीएम धामी ने कहा कि हम सबको मिलकर उत्तराखंड को मॉडल राज्य बनाने का सपना साकार करना होगा। धामी ने कहा कि हमारी सरकार उत्तराखंड को एक बेहतर राज्य बनाना चाहती है जहां उद्योग, पर्यटन, शिक्षा, स्वास्थ्य व रोजगार सभी के लिए वातावरण अनुकूल हो। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक सामान्य परिवार के व्यक्ति को मुख्य सेवक बनाया है तो उस दायित्व को सबके सहयोग से पूरा करना होगा। 

 

मैं आपका बेटा, भाई हूं विकास करने के लिए प्रयास करूंगा

उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा उत्तराखंड में उद्योगों को स्थापित करने के लिए दिए गए पैकेज के कारण ही आज उत्तराखंड में व्यापक स्तर पर उद्योग स्थापित हुए हैं और उनकी समस्याओं का निस्तारण प्राथमिकता पर किया जाएगा। सीएम धामी ने कहा कि सरकार द्वारा की गई घोषणाओं और शिलान्यास को प्राथमिकता के आधार पर पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा, ’मैं आपका बेटा, भाई हूं. उत्तराखंड का चहुमुखी विकास करने के लिए प्रयास करूंगा।  उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ’नो पेंडेंसी’ पर कार्य करेगी, जिसके लिए अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि जो कार्य जिस स्तर का हो, उसका उसी स्तर पर तत्काल निस्तारण किया जाए और वह किसी भी दशा में लंबित न रहे। धामी ने कहा कि किसी भी स्तर पर कोई लापरवाही सामने आने पर संबंधित अधिकारी की जिम्मेदारी निर्धारित की जाएगी।